संवाद सहयोगी, कलानौर : अपरबारी दोआब नहर से निकलते रजबाहे में कुछ किसानों की ओर से पाइपें लगा कर सरेआम नहरी पानी चोरी किया जारहा है।

गौरतलब है कि रनियां रजबाहे पर निर्भर सैंकड़ों गांवों के किसान इस समय धान की बिजाई करने में जुटे हुए है और दिन रात मेहनत कर रहे है। इसी के चलते किसानों द्वारा बिजली, जनरेटरों व नहरी पानी के माध्यम से खेतों में पानी की कमी को पूरा किया जा रहा है। इसके अलावा नहरी विभाग पिछले दिनों रनियां रजबाहे की अंदरुनी सफाई करके किसानों को नहरी पानी पहुंचाने के लिए प्रयासरत है। गांव सहारी, बागोवानी, विर्क, अठवाल, काला गोराया व भंडाल के किसानों की ओर से इस रनियां रजबाहे में पाइपें लगा कर नहरी पानी की चोरी की जा रही है। इसके चलते इस रजबाहे के साथ जुड़े गांव भंगवां, खुशीपुर, दलेलपुर, पंनवां, पैड़ूवाल, हकीमपुर, ¨पडिया, लुकमानिया, मलकपुर, दरगाबाद आदि के किसानों को नहरी पानी नसीब नहीं हो पा रहा। जबकि ¨सचाई विभाग की ओर से पिछले दिनों से रजबाहे की सफाई करके बड़े स्तर पर पानी की सप्लाई शुरू की गई है।

माइनर नंबर तीन के अधीन पड़ते गांव पनवां के किसान कमलप्रीत ¨सह ने बताया कि उक्त रजबाहे में पानी चोरी होने के कारण आखिरी गांवों के रजवाहों तक पानी नहीं पहुंच पा रहा। दसके किसानों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

जांच करवाएंगे : एक्सईएन

इस संबंधी नहरी विभाग के एक्सईएन जगदीश राज का कहना है कि वह तुरंत संबंधित जेई की ड्यूटी लगा कर इस रजबाहे की चे¨कग करवाएंगे और यदि कोई किसान नहरी पानी चोरी करता पाया गया तो उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी और किसानों को नहरी पानी सप्लाई निरंतर मुहैया करवाया जाएगा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!