जागरण संवाददाता, गुरदासपुर : आइएमए (इंडियन मेडिकल एसोसिएशन) की गुरदासपुर इकाई ने देश भर में डाक्टरों और अस्पतालों पर हो रहे हमले के विरोध में काली पट्टी बांधकर अपना रोष जाहिर किया। इसकी अध्यक्षता एसोसिएशन के प्रधान डा. अशोक ओबराय ने की।

डा. ओबराय ने कहा कि देश में हालात ऐसे बन गए हैं कि डाक्टरों को कठिन हालात में प्रैक्टिस करनी पड़ रही है। औसतन रोजाना देश में एक अस्पताल को हिसा का निशाना बनाया जा रहा है। डाक्टरों पर हमले करके उनका जानी नुकसान तक किया जा रहा है। उन्होंने मांग की कि केंद्र सरकार नया कानून बनाकर ऐसे तत्वों को कड़ी सजा देने की व्यवस्था की जाए। उन्होने कहा कि देश में कुछ अध्यात्म व योगा गुरु होने का दावा करने वाले व्यक्ति एलोपैथी पर बेतुके सवाल उठा रहे हैं। एलोपैथिक डाक्टरों द्वारा दी जा रही सेवाओं भ सवाल उठा रहे हैं, जोकि बेहद निदनीय बात है। एलोपैथिक डाक्टरों ने आयुर्वेद या किसी अन्य की कभी आलोचना नहीं की। एसोसिएशन ने मांग की कि ऐसे तत्वों के खिलाफ भी कार्रवाई की जाए। इस मौके पर सचिव डा. गुरखेल सिंह कलसी, डा. सतिदर महाजन, डा. बीएस बाजवा, डा. एचएस कलेर, डा. रोमिदर कलेर, डा. सुखदेव सिंह, डा. सुनील कौशल, डा. अमित अग्रवाल, डा. राजीव अरोड़ा, डा. गोपाल राज, डा. रमेश महाजन, डा. अजय महाजन आदि उपस्थित थे।

Edited By: Jagran