संवाद सहयोगी, गुरदासपुर : भारत सरकार की ओर से नेशनल ई गवर्नेस के तहत सीएससी ई गवर्नेस लिमिटेड द्वारा देश भर में चलाए जा रहे कॉमन सर्विस सेंटर (ग्राम सुविधा केंद्रों) द्वारा गांवों को डिजिटल बनाने की प्रक्रिया शुरू की गई है। इसके तहत जिले के गांव जौड़ा छत्तरां का चयन पहला डिजिटल गांव बनाने के लिए किया गया।

गांव में खुले कॉमन सर्विस सेंटर द्वारा पिछले 10 सालों से इस क्षेत्र व गांवों को विभिन्न सेवाएं प्रदान की गई हैं। अब डिजिटल गांव बनाने की जिम्मेदारी भी सर्विस सेंटर को दी गई है। वीरवार को गांव में जागरूकता कैंप लगाया गया। इसमें एचडीएफसी बैंक के कलस्टर हेड नितिन जैन मुख्य अतिथि के रूप में शामिल हुए। इनके साथ सीनियर कांग्रेसी नेता बलजिदर सिंह व बैंक के मैनेजर पंकज कुमार भी उपस्थित हुए। मुख्य अतिथि ने बैंक द्वारा एफआइ गांव के लिए चलाई जा रही विशेष योजनाओं बारे गांव वासियों को विस्तारपूर्वक जानकारी दी। एसपीवी के जिला अधिकारी प्रवीन कुमार ने बताया कि इस गांव में सेंटर द्वारा नौजवानों को फ्री एजुकेशन, हरेक गांव वासी के लिए टेली मेडिशन, डिजिटल लिटरेसी व भर्ती संबंधी सेवाओं के साथ-साथ विभिन्न सेवाएं प्राप्त कर सकते हैं।

डिजिटल गांव के तहत पहले पड़ाव में ग्राम सुविधा केंद्र जौड़ा छत्तरां की ओर से पहले ही सोलर लाइटें लगाई जा चुकी हैं तथा आने वाले दिनों में बाकी सेवाएं भी शुरू की जा रही हैं। इसके बाद ग्राम सुविधा केंद्र के संचालक परमजीत सिंह द्वारा मुख्य अतिथि सहित पहुंचे सभी मेहमानों का धन्यवाद किया गया। इस मौके पर सुखराज सिंह, रणजीत सिंह, सुखजिदर सिंह, प्रिंस कुमार, गुरसेवक सिंह, टहल सिंह, बलविदर सिंह, पलविदर सिंह, राकेश कुमार, जुगल किशोर आदि उपस्थित थे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!