संवाद सहयोगी, गुरदासपुर : सिविल सर्जन डॉ. किशन चंद की ओर से एंटी मलेरिया मंथ जून 2018 संबंधी रिक्शा माइ¨कग सिविल सर्जन कार्यालय से हरी झंडी देकर रवाना की गई। यह माइ¨कग गुरदासपुर शहर वासियों को मलेरिया संबंधी जागरुक करेगी। सिविल सर्जन ने बताया कि यह माइ¨कग गुरदासपुर शहर में 8 जून व 22 जून को की जा रही है। जिसके अनुसार यह माइ¨कग कार्यालय सिविल सर्जन गुरदासपुर से शुरू होकर सरकारी कॉलेज रोड से बहरामपुर रोड़, बाबू परमानंद मोहल्ला से बंदा बहादुर कालोनी, सदर बाजार, अमामवाड़ा चौंक, गोपाल शाह रोड़, सति माता मंदिर गली से हरी दरबार कालोनी, काहनूवान रोड़, इंप्रूवमेंट ट्रस्ट कालोनी कलानौर रोड़ से रविदास मंदिर से प्रेम नगर से वापिस कार्यालय में आकर खत्म की गई। इस मौके पर जिला परिवार भलाई अधिकारी डॉ. चरणजीत ¨सह काहलों, डॉ. प्रभजोत कौर कलसी, मेडिकल अधिकारी स्कूल हेल्थ डा. भावना शर्मा, डॉ. वंदना, अमरजीत ¨सह दालम, गुरदीश कौर, अर¨वदर कौर, प्रबोध चंदर, सुखदियाल, हरचरण ¨सह, अरुण यादव, हरचरण ¨सह, निकुंज मोहन, पवन कुमार आदि उपस्थित थे। खड़े पानी में पैदा होता है मच्छर

सिविल सर्जन डॉ. किशन चंद ने बताया कि इसका मुख्य उद्देश्य लोगों को मलेरिया संबंधी जागरूक करना है। उन्होंने कहा कि मलेरिया अनोफलीज मच्छर के काटने से फैलता है। यह मच्छर साफ खड़े पानी में फैलता है। इस लिए पानी को आस पास के क्षेत्र में खड़ा नहीं होने दिया जाए और ऐसे कपड़े पहनने चाहिए, जो पूरे शरीर को ढक कर रखें। मच्छरदानी आदि का सहारा भी लिया जाना चाहिए तथा रात को सोते समय क्रीम या फिर मच्छर को भगाने वाले पदार्थ का इस्तेमाल करना चाहिए।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!