जागरण संवाददाता, अबोहर : वेतन की मांग को लेकर नगर परिषद के सफाई कर्मचारियों ने दूसरे दिन हड़ताल रखकर प्रशासन व अधिकारियों के खिलाफ नारेबाजी की। पांच सदस्यीय सफाई सेवक कमेटी के सदस्य मुरारी लाल, मोजी राम, भीमचंद, मुकेश सोनी व धर्मवीर ने बताया कि पिछली हड़ताल के दौरान जो समझौता प्रशासनिक अधिकारियों, नगरपरिषद अधिकारियों, समाजसेवी संस्थाओं व नेताओं द्वारा किया गया था वह पूरा नहीं किया गया। भगवान वाल्मीकि के प्रकटोत्सव से पूर्व उन्हें बकाया दो माह का वेतन मिला। अब दिवाली भी नजदीक आ रही है। उन्होंने कहा कि वेतन न मिलने के कारण उनकी आर्थिक स्थिति पहले ही खराब चल रही है। त्योहारों का सीजन है, लेकिन प्रशासन व नगर परिषद अधिकारियों द्वारा उनके साथ धोखा किया जा रहा है। इसी के रोष स्वरूप उन्होंने हड़ताल पर जाने का निर्णय लिया है। उन्होंने कहा कि वेतन न मिलने के कारण कुछ कर्मचारी जिदगी और मौत से जूझ रहे हैं, जिनका समय पर इलाज न होने के कारण अपनी जिदगी भी गवां सकते हैं, लेकिन प्रशासन है कि कर्मचारियों की सुनवाई नहीं कर रहा। उन्होंने चेतावनी दी है कि अगर उनका बकाया वेतन नहीं जारी किया गया तो वह संघर्ष को और तेज करेंगे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!