संवाद सहयोगी, फिरोजपुर : जिले में वीरवार को कोरोना का कोई नया केस नहीं मिला, जबकि एक संक्रमित स्वस्थ हुआ है। जिले में अब कोरोना के नौ एक्टिव केस हैं। सेहत विभाग के अधिकारियों ने कोरोना से बचाव के लिए लोगों से गाइडलाइंस के पालन की अपील की है।

फाजिल्का में मिले डेंगू के दो नए केस, सर्वे तेज संवाद सूत्र, फाजिल्का :

कोरोना के खिलाफ चलाए जा रहे अभियान के साथ अब डेंगू व मलेरिया को लेकर भी सेहत विभाग पूरी तरह से सतर्क हो गया है। वीरवार को फाजिल्का में डेंगू के दो नए मामले मिले हैं। हालांकि राहत की बात यह है कि उक्त दोनों मरीज प्राइवेट अस्पताल में इलाज करवाकर ठीक हो चुके हैं, जबकि अब तक आए आठ मरीज भी पूरी तरह से स्वस्थ हो चुके हैं।

डेंगू के प्रकोप को बढ़ता देख सेहत विभाग ने भी सर्वे तेज कर दिया है और रोजाना करीब 200 घरों में लारवे की जांच की जा रही है, जबकि लारवा मिलने पर लोगों के चालान भी काटे जा रहे हैं। अब तक सेहत विभाग की ओर से लारवा मिलने पर चार लोगों के चालान काटे गए हैं। सिविल सर्जन डा. दविद्र कुमार ढांडा ने बताया कि मौसम में बदलाव आया है और एक दिन पहले बारिश हुई है। ऐसे में जहां भी फालतू सामान और पानी को एकत्रित होने वाले स्त्रोत हैं, उन्हें तुरंत खाली किया जाए। उन्होंने अपील की कि अपने घरों, दुकानों व सरकारी दफ्तरों के में मौजूद कूलर, गमले, टंकियों में से हफ्ते में एक बार को पानी निकाल कर सुखा दिया जाए और बरसात का पानी घरों की छतों और आसपास न खड़ा होने दिया जाए। स्वास्थ्य कर्मचारी विकास कुमार और इंद्रजीत सिंह ने शहर में जोरा सिंह मान नगर, और महरियां बाजार, सब्जी मंडी में कूलर, गमले, टंकियों और खड़े पानी के स्त्रोतों को चैक किया गया।

लगातार शहर में की जा रही फागिग जहां सेहत विभाग की टीमें लोगों में पंफलेट बांटकर उन्हें जागरूक करने के अलावा घर घर जाकर डेंगू के लारवे की जांच कर रही है। वहीं नगर कौंसिल द्वारा डेंगू से बचाव के लिए शहर के विभिन्न मोहल्लों में फागिग करवाई जा रही है।

Edited By: Jagran