संवाद सहयोगी, फिरोजपुर : सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाली विद्यार्थियों ने 98 प्रतिशत से भी अधिक अंक प्राप्त करके मिसाल कायम की है। आज सरकारी स्कूल किसी भी निजी स्कूल से कम नहीं हैं। उक्त दावा वरिष्ठ कांग्रेसी नेता और जिला परिषद के सदस्य जसमेल सिंह लाडी गहरी की तरफ से सरकारी स्कूलों के सुधार, शिक्षा, दाखिला आदि विषयों को लेकर जिला शिक्षा अधिकारियों के साथ रखी मीटिंग के दौरान कही। गौर हो कि ये कांग्रेसी नेता फिरोजपुर देहाती हलके की विधायका सतकार कौर गहरी के पति हैं ।

उन्होंने कहा कि उनकी पत्नी सतकार कौर गहरी की पढ़ाई भी सरकारी स्कूल की है। हमें अपने बच्चे को सरकारी स्कूलों में पढ़ाने से गुरेज नहीं करना चाहिए, क्योंकि यदि उनकी धर्मपत्नी सरकारी स्कूल से पढ़कर विधायक बन सकती हैं तो आपके बच्चे भी विधायक, डीसी या अन्य अफसर बन सकते हैं। उन्होंने कहा कि मैं खुद अपना बच्चा सरकारी स्कूल में पढ़ाने की हामी भरता हूं और जिले के मां बाप को भी अपील करता हूं कि वे भी अपने बच्चे सरकारी स्कूल में पढ़ाएं।

इस मौके पर उनके साि जिला को-आर्डिनेटर पढ़ो पंजाब टीम महेंद्र सिंह शैली, गुरप्रीत सिह पिंसिपल सरकारी सीनियर सेकेंडरी स्कूल बजीदपुर, ईश्वर शर्मा मुख्याध्यापक सरकारी माध्यमिक स्कूल लोहगढ़, लेक्चरर राकेश कुमार, बलकार सिंह गिल और सुखविन्दर सिंह भुल्लर उपस्थित थे।

इस मौके पर उन्होंने कहा कि सरकारी स्कूलों में जहां फीस नहीं देनी होती है वहीं स्कूल की ओर से किताबें, वर्दी व दोपहर का भोजन भी दिया जाता है। इसलिए अधिक से अधिक लोग अपने बच्चे सरकारी स्कूलों में भेजें।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप