संवाद सूत्र, फिरोजपुर : शहर के नामदेव चौक में एटीएम काट 4.84 लाख की लूट के मामले को पुलिस ने सुलझा लिया है। पश्चिमी बंगाल में पंजाब 23 बटालियन में तैनात भारतीय सेना के जवान ने कर्ज उतारने के लिए छुट्टी पर आकर लूट की वारदात को अंजाम दिया था। थाना सिटी पुलिस ने 30 वर्षीय आरोपित चरणजीत सिंह निवासी बस्ती बेला सिंह को गिरफ्तार कर वारदात में इस्तेमाल की आल्टो कार, आक्सीजन सिलेंडर, गैस कटर, एलपीजी सिलेंडर सहित अन्य औजार बरामद किए है। युवक ने मशीन से जो राशि निकाली थी, वह अपने दोस्तो में बांट दी थी।

एसपी गुरमीत सिंह चीमा ने बताया कि चरणजीत सिंह को शेयर मार्केट में लाखों रुपये का घाटा पड़ था, जिसके लिए उसने 45 लाख रुपये का कर्ज अपने दोस्तो से लिया था। कर्ज उतारने के चक्कर में उसने एटीएम लूटने की योजना बनाई। यू-टयूब से उसने गैस कटर के माध्यम से एटीएम काटने के तरीके सीखे। इसके बाद उसने अकेले ही आकर एटीएम पर लूट की वारदात को अंजाम दे दिया। पुलिस अधिकारी ने बताया कि चरणजीत जुलाई 2021 में छुट्टी लेकर आया था और 13 अगस्त को उसने वापस जाना था, लेकिन उसने वारदात को अंजाम देने के लिए छुट्टी एक्सटेंड करवा ली थी।

एटीएम लूट की इस वारदात को ट्रेस करने के लिए थाना सिटी पुलिस सहित सीआइए विग द्वारा मशक्कत की जा रही थी। नौ दिन की कोशिश के बाद पुलिस ने मल्लांवाला रोड स्थित सोकड़ नहर पर नाकाबंदी के दौरान आरोपित को गिरफ्तार कर लिया है। क्राइम पूरे व‌र्ल्ड में होते रहते है: एसपी

शहर में लगातार बढ़ रही छीना-झपटी, गोलीबारी की घटनाओं के बारे में जब एसपी आप्रेशन गुरमीत सिंह चीमा से पूछा गया तो उन्होंने कहा कि क्राइम तो पूरे व‌र्ल्ड में होते है। लेकिन पुलिस ने एटीएम लूटने वाले आरोपित को पकड़ने में बड़ी सफलता हासिल की है। पुलिस का काम सिर्फ पैट्रोलिग व नाकाबंदी करना होता है। शहर में बढ़ाई पैट्रोलिग

पुलिस द्वारा शहर-छावनी सहित गांवों में नाकाबंदी, पैट्रोलिग करवाने के अलावा वाहनों का चैकिग अभियान लगातार जारी है ताकि क्राइम पर नकेल कसी जा सके। इस कार्य में पुलिस द्वारा पीएपी सहित अन्य कंपनियों के जवान तैनात किए गए हैं।

Edited By: Jagran