सुभाष आनंद, फिरोजपुर :

राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) फिरोजपुर के मालवा खालसा स्कूल में कोरोना संक्रमितों के लिए आइसोलेशन वार्ड तैयार कर रहा है। आपसी सौहार्द के प्रतीक बनने जा रहे मालवा खालसा स्कूल के इस वार्ड में बहुत कुछ सीखने को मिलेगा। शहर की सामाजिक संस्थाएं और नामी शहरवासी आरएसएस की इस मुहिम से जुड़ रहे हैं। स्कूल प्रबंधक कमेटी के प्रधान रविदर बबल ने इस प्रयास में सहयोग पर खुशी जाहिर की।

आरएसएस ने इस वार्ड की तैयारी करते हुए पांच आक्सीजन कंसंट्रेटर, सैनिटाइजर, स्टीमर, पीपीई किट्स, बैड, गद्दे, चादर, संक्रमितों को भोजन के लिए राशन और सभी तरह की दवाएं मंगवा ली हैं। संक्रमितों का इलाज सिविल अस्पताल के डाक्टर जतिदर कोछड़ सेवाभाव से करेंगे। रिटायर्ड पैरा मेडिकल स्टाफ में छह नर्स, तीन फार्मासिस्टों निश्शुल्क इलाज करने के लिए रजामंदी दी है। मरीजों की सेवा के लिए आरएसएस के बारह कार्यकर्ता खाना बनाने के साथ संक्रमितों को खिलाने का काम करेंगे। संक्रमितों के कपड़े धोने के लिए विशेष इंतजाम किए गए है। आरएसएस के प्रोजेक्ट इंचार्ज नरेश कुमार ने कहा कि शहरवासियों की मदद से ही इस वार्ड को तैयार किया जा रहा है। लुधियाना आरएसएस की शाखा ने आक्सीजन कंसंट्रेटर भेजे हैं।

स्कूल प्रबंधन कमेटी के प्रधान और पूर्व विधायक रविदर बबल ने कहा इससे पहले आरएसएस को कोरोना वेक्सीन के लिए स्कूल में कैंप लगाने को कहा गया था। जो घर में रह सकते हैं वे आइसोलेशन वार्ड में रहेंगे

कोरोना संक्रमण के बाद घर में जगह की तंगी कारण होम आइसोलेट न होने को मजबूर जरूरतमंद आरएसएस के इस आइसोलेशन वार्ड में रह सकेंगे। प्रोजेक्ट इंचार्ज नरेश कुमार ने कहा संक्रमण होने के बाद एक या दो कमरे के घरों में रहने वाले तंग है। ऐसे जरूरतमंदों की जरूरत पूरी करने के लिए मालवा खालसा स्कूल में आइसोलेशन वार्ड तैयार किया जा रहा है। जरूरत महसूस हुई तो बेडों की गिनती दस से अधिक की जाएगी।