जागरण संवाददाता, फाजिल्का : आरटीआइ कार्यकर्ता और अग्रदूत सोशल वेलफेयर सोसायटी के महासचिव अमर चेतीवाल ने एक भाजपा नेता पर उन्हें जान से मारने की धमकी देने का आरोप लगाया है।

चेतीवाल ने कहा कि उन्होंने विभिन्न विभागों में हो रहे भ्रष्टाचार के बारे में आरटीआइ के तहत सूचना मांगी है। इसी की खुन्नस में सात अक्टूबर को उनके मोबाइल फोन पर किसी ने फोन किया। उक्त व्यक्ति ने अपना नाम राकेश सहगल बताया और उन्हें जान से मारने की धमकी दी और आरटीआइ के तहत सूचनाएं मांगना बंद करने को कहा। चेतीवाल का आरोप है कि उक्त व्यक्ति भाजपा का नेता है। उन्होंने पुलिस से इस मामले में कार्रवाई की मांग की है।

-----------

नहीं दी धमकी : सहगल

भाजपा नेता राकेश सहगल ने कहा कि उन्होंने फोन जरूर किया था, लेकिन कोई धमकी नहीं दी। उन्होंने कहा कि चेतीवाल भाजपा के जिला महासचिव रहे हैं। एक जिम्मेवार पद पर रहने के बावजूद वह आरटीआइ की आड़ में पार्टी की छवि खराब कर रहे हैं। फोन पर हुई बात में उन्होंने चेतीवाल से आरटीआइ की बजाय सीधे पदाधिकारियों से जवाब मांगने की सलाह दी थी। यहां तक कि उन्होंने चेतीवाल को सूचना मांगने से भी नहीं रोका।

-----------

शिकायत मिलते ही कार्रवाई : एसएसपी

अमर चेतीवाल ने खुद को मिली धमकी की शिकायत रजिस्टर्ड डाक से एसएसपी व नगर थाना पुलिस को भेजी है। इस बारे में एसएसपी अमर सिंह ने कहा कि अभी तक उन्हें ऐसी कोई शिकायत नहीं मिली। शिकायत मिलते ही बनती कार्रवाई की जाएगी।

------------

सूचना न देने पर ईओ सहित तीन चार्जशीट

फाजिल्का : आरटीआइ कार्यकर्ता अमर चेतीवाल ने नगर परिषद की ओर से खरीदे गए सीवरेज मेनहोल के ढक्कनों, सलेमशाह बाजार में बनाए गए डिवाइडर सहित विभिन्न विकास कार्यो सहित दो दर्जन सूचनाएं मांगी थीं। लेकिन समय पर न दी गई, आधी-अधूरी व गुमराह करने वाली सूचनाओं के आधार पर चेतीवाल ने प्रदेश सूचना आयुक्त से शिकायत की थीं। उसी के आधार पर प्रदेश सूचना आयुक्त ने नगर परिषद के कार्यकारी अधिकारी, एसओ व क्लर्क को चार्जशीट कर दिया है।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!