अमृत सचदेवा, फाजिल्का

पूरे पंजाब के लिए फाजिल्का से शुरू किए गए ग्रीनिंग पंजाब प्रोजेक्ट के उद्घाटन मौके पर वनमंत्री सुरजीत ज्याणी का हर्बल नर्सरी का सपना नजरअंदाज किया गया। जबकि वन विभाग के अधिकारियों के अनुसार ग्रीनिंग पंजाब प्रोजेक्ट की शुरुआत मौके पर मुख्यमंत्री द्वारा हर्बल नर्सरी वाली जगह पर माडर्न नर्सरी का शिलान्यास करना था।

उल्लेखनीय है कि औषधीय गुणों वाले पौधे तैयार करने के लिए स्थानीय विधायक व वनमंत्री सुरजीत ज्याणी ने गांव रामपुरा के निकट हर्बल नर्सरी स्थापित करने का सपना देखा था और आठ एकड़ जगह पर नर्सरी स्थापित करवाई थी। लेकिन उसके बाद सरकार बदलने और नर्सरी की जमीन औषधीय पौधों के अनुकूल न होने की वजह से हर्बल नर्सरी का सपना साकार नहीं हो सका। अब जब पूरे पंजाब में ग्रीनिंग पंजाब प्रोजेक्ट शुरू किया जा रहा है, ऐसे में जिला वन अधिकारी संजीव तिवाड़ी के अनुसार हर्बल नर्सरी वाली करीब आठ एकड़ जगह पर माडर्न नर्सरी स्थापित किए जाने के बयान से हर्बल नर्सरी वाली जगह के दिन बहुरने की उम्मीद लगाई जा रही थी। लेकिन ग्रीनिंग पंजाब प्रोजेक्ट शुरू भी हुआ, मुख्यमंत्री फाजिल्का भी आए लेकिन हर्बल नर्सरी अपनी बदहाली पर आंसू बहाती रह गई।

इस बारे में वनमंत्री सुरजीत ज्याणी से बात की गई तो उन्होंने कहा कि औषधीय पौधे न सही लेकिन वह यहां बेहतरीन नर्सरी व पिकनिक स्पॉट बनाकर लोगों को स्वच्छ पर्यावरण का तोहफा जल्द ही देंगे।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर