अमृत सचदेवा, फाजिल्का

फाजिल्का की ग्रेजुएट वेलफेयर एसोसिएशन द्वारा तैयार की गई नए ढंग की रिक्शा जिसे इको कैब नाम दिया गया है, ने शहर का नाम पूरी दुनिया में रोशन कर दिया है। अमेरिका की यूनिवर्सिटी ऑफ मिशिगन ने इकोकैब को दुनिया के 15 प्रमुख यातायात प्रोजेक्टों में शामिल किया है। इसके लिए करीब सौ देशों के यातायात प्रोजेक्टों के आवेदन आए थे। 15 वाहनों की सूची में फाजिल्का की इकोकैब चौथे स्थान पर है। प्रथम तीन स्थानों के लिए जारी ऑनलाइन वोटिंग के दौरान अगर यह प्रथम तीन प्रोजेक्टों में आती है तो फाजिल्का के मेयर (नगर परिषद अध्यक्ष) को ब्राजील बुलाकर सम्मानित किया जाएगा।

-----

क्या है इकोकैब

फाजिल्का: देश भर में काम कर रहे लाखों रिक्शा चालकों की कमजोर सेहत और मोटर वाहनों के अंधाधुंध प्रयोग से बढ़ रहे प्रदूषण के मद्देनजर नई रिक्शा को पारंपरिक रिक्शा से कम वजन का बनाया गया है। इसमें यात्रियों के लिए एफएम रेडियो, पेयजल, बुजुर्गो के आसानी से चढ़ने के लिए नीचा प्लेटफार्म आदि खूबियां जोड़ी गई हैं। चार साल पहले इकोकैब निर्माण के साथ फाजिल्का में डायल-ए-रिक्शा प्रोजेक्ट भी शुरू किया गया था। इससे इकोकैब देश की पहली फोन के जरिये बुलाई जाने वाली रिक्शा सर्विस बन गई थी। इस रिक्शा का मकसद जहां रिक्शा चालकों का बोझ कम करना था वहीं लोगों को छोटे छोटे कार्यो के लिए मोटर वाहन के बजाय पब्लिक ट्रांसपोर्ट यानी रिक्शा के प्रयोग के लिए प्रेरित कर प्रदूषण से मुक्ति का था। बाद में यह सर्विस एंड्रायड एप्लीकेशन के साथ जोड़ दी गई। यह प्रोजेक्ट भी देश का पहला ऐसी परियोजना बना जिसमें यातायात के सबसे छोटे साधन में इस एप्लीकेशन का प्रयोग किया गया।

----

पर्यावरण प्रेमियों की अगली मंजिल ब्राजील

फाजिल्का : अमेरिका की मिशिगन यूनिवर्सिटी द्वारा इकोकैब को दुनिया के प्रमुख यातायात प्रोजेक्टों में शामिल किए जाने के बाद पर्यावरण प्रेमियों का अगला निशाना ब्राजील में होने वाली संयुक्त राष्ट्र कांफ्रेंस ऑन सस्टेनएबल डेवलपमेंट है। अगर ऑनलाइन वोटिंग के जरिये फाजिल्का इकोकैब जोकि चौथे पायदान पर है, प्रथम तीन प्रोजेक्टों में शामिल हो जाती है तो इस प्रोजेक्ट में सहयोग के लिए नगर परिषद अध्यक्ष अनिल सेठी को 13 जून 2012 को ब्राजील बुलाया जाएगा।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर