संवाद सहयोगी, फिरोजपुर : फिरोजपुर छावनी के एमएलएम स्कूल में दिव्यांगों के लिए लगाए गए सुविधा शिविर में 80 दिव्यांगों के फार्म भरे गए, जबकि पांच दिव्यांगों को पेंशन सर्टफिकेट वितरित किये गए । शिविर के दौरान डीसी फिरोजपुर दविदर सिंह, एसडीएम ओम प्रकाश के अलावा डीईओ राजीव छाबड़ा, रेड क्रास सचिव अशोक बहल और प्रिसिपल डा. सतिदर सिंह, डीएसएसओ राज किरण कौर ,शैली कंबोज प्रधान सरबत दा भला सोसायटी भी मौजूद थे।

इस दौरान दो दिव्यांगों को ट्राई साइकिल भी दिए गए। इस मौके पर दिव्यांगों को सहायता के लिए जिला प्रशासन की तरफ से हेल्प लाइन नं: 95018 -19305, 01632 -244008 भी जारी किया गया। डिप्टी कमिश्नर दविदर सिंह ने कहा कि दिव्यांगों के यूडीआई़डी कार्ड पहल के आधार पर बनाए जाएंगे । उन्होंने संबंधित विभागों को हिदायत दी कि स्पेशल सर्वे करवाकर दिव्यांगों के यूडीआइडी कार्डों को पहल के आधार पर बनाया जाए। इसके अलावा यदि किसी भी दिव्यांग व्यक्ति को यूडीआइडी कार्ड, बनावटी अंग या किसी तरह की कोई भी सहायता की जरूरत है तो वह प्रशासन के हेल्पलाइन नं पर संपर्क कर सकते हैं। समाज सेवी संस्थाओं को भी अपील की कि वह दिव्यांग व्यक्तियों की मदद करने के साथ-साथ इनका डाटा कलेकट करें और इनको सहायता प्रदान करन के लिए जिला प्रशासन के साथ तालमेल करें। इस मौके भक्त पूरन सिंह स्कूल कटोरा के बच्चों की तरफ से सांस्कृतिक प्रोग्राम पेश किया गया। इस मौके पर व्यापार मंडल के प्रधान चंद्र मोहन हांडा भी मौजूद थे।

मोतिया मुक्त अभियान के तहत जागरूकता वैन रवाना संवाद सहयोगी,फिरोजपुर : सेहत विभाग की तरफ से प्रदेश भर में मोतिया मुक्त अभियान शुरू किया जा चुका है और इसी प्रयास को सफल बनाने के लिए शुक्रवार को सिविल अस्पताल फिरोजपुर से जागरूकता वैन को हरी झंडी देकर रवाना किया गया।

सेहत अधिकारियों के मुताबिक मुहिम के अंतर्गत अलग-अलग सेहत संस्थाओं में स्क्रीनिग कैंप लगाए जा रहे हैं। अभियान अधीन स्टेट हेडक्वार्टर की तरफ से भेजी गई वैन को मेडिसिन माहिर डा.गुरमेज गोराया ने झंडी दिखाई। इस अवसर पर मुहिम इंचार्ज डा.रुपिंदर जोशन, नेत्र अफसर डा. संदीप बजाज, मास मीडिया अफसर रंजीव शर्मा, एएमओ गुरलाल सिंह, डिप्टी मास मीडिया अफसर गुरचरन सिंह भी उपस्थित थे। आई अफसर संदीप बजाज ने बताया मुहिम के तहत आंखों के कैंप लगाए जाएंगे, जिसमें लोगों की आंखों की पूरी जांच की जाएगी और मोतियाबिद से पीड़ित पाए जाने वाले व्यक्तियों का 15 दिन में मुफ्त आपरेशन किया जाएगा। दिसंबर महीने में हरेक तहसील में कम से कम एक कैंप लगाया जाएगा। यह मुहिम 31 दिसंबर तक जारी रहेगी।

Edited By: Jagran