जागरण संवाददाता, फाजिल्का

सुविधा केंद्र में डाक्टर चेकअप के नाम पर वसूली जा रही फीस के बारे में डिप्टी कमिश्नर डा. बसंत गर्ग ने कहा है कि वह इसकी जाच करेगे।

उल्लेखनीय है कि सुविधा केंद्र में लाइसेंस के लिए आवेदन करने वालों को पहले तो सरकारी अस्पताल में मेडिकल चेकअप के लिए भेजा जाता है जहा 50 रुपये चेकअप फीस लगती है। बाद में सुविधा केंद्र में भी 35 रुपये की डाक्टर चेकअप फीस की पर्ची काटी जाती है। जबकि सुविधा केंद्र में कोई डाक्टरी चेकअप नहीं होता। इससे लाइसेंस बनवाने वालों को एक छत के नीचे सुविधा मिलने की बजाए अस्पताल जा चेकअप करवाने के झझट के साथ साथ दो बार फीस भी अदा करनी पड़ रही है। इससे सुविधा केंद्र उनके आर्थिक शोषण का केंद्र बन गया है।

इस बारे में डीसी डा. गर्ग से बात की गई तो उन्होंने कहा कि दो बार फीस वसूला जाना उनके नोटिस में नहीं है। सुविधा केंद्र में जो डाक्टरी चेकअप फीस की पर्ची काटी जाती है, वह सुविधा केंद्र के नियमानुसार ही काटी जाती है। लेकिन अस्पताल में ली जा रही मेडिकल फीस के कारण लाइसेंस बनवाने वालों को हो रही परेशानी और दोहरी फीस से हो रही असुविधा के बारे में वह पर्याप्त जानकारी हासिल कर जल्द ही समस्या को दूर करेंगे।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर