रवि वाट्स, जलालाबाद (फाजिल्का) : भले ही अब यह कहना आरंभ हो गया है कि सरहदी गांव भी किसी से कम नहीं, लेकिन किसी ना किसी समस्या को लेकर सरहदी गांवों के लोग परेशान जरूर रहते हैं। ऐसी ही स्थिति जलालाबाद की ढाणी नत्था सिंह के आसपास के गांवों की है, जहां इन गांवों को जलालाबाद से जोड़ने के लिए सतलुज क्रिक पर पुल बनाने की मांग पिछले 30 सालों से की जा रही है। समय-समय पर बदली सरकारों ने यहां के ग्रामीणों को आश्वासन के अलावा कुछ नहीं दिया। नतीजतन अगस्त 2019 में नुकसान करने के बाद अब फिर से सतलुज क्रिक का जलस्तर बढ़ गया है और यहां बना पुल एक बार फिर से पानी में डूब गया है। इससे किसानों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

साल 2019 की बात करें तो अधिक बारिश के चलते सतलुज का जलस्तर बढ़ा, जिस कारण कई दिनों तक सरहदी गांवों का संपर्क जलालाबाद से टूट गया। जहां इस पानी ने लोगों की फसले बर्बाद कर दी, वहीं एक बच्चे की पानी में डूबने से मौत भी हो गई। तब भी यहां के लोगों द्वारा सरकार से यहां पुल बनाने की मांग की गई, लेकिन अभी तक इस ओर कोई ध्यान नहीं दिया गया। इसके बाद अब फिर मई माह के अंतिम दिनों में सतलुज का जलस्तर बढ़ गया है, जिस कारण पानी में पुराना बना पुल डूब गया है और लोग उसके उपर से गुजरने के लिए मजबूर हो रहे हैं।

ढाणी नत्था सिंह निवासी जस्सा सिंह व राजीव सिंह ने बताया कि ढाणी के बिल्कुल नजदीक किसी समय सतलुज क्रिक बहती थी। लेकिन धीरे-धीरे सतलुज दूर होता गया, लेकिन सतलुज क्रिक के पानी के चलते ढाल वैसी की वैसी ही रही। आम दिनों में तो उक्त जगह पर पानी नहीं होता और सात गांवों के लोग इसी रास्ते के जरिए शहर की ओर जाते हैं। लेकिन जब भी सतलुज क्रिक में पानी का जलस्तर बढ़ता है तो सतलुज का पानी उक्त जगह पर भर जाता है, जिससे सात गांवों का संपर्क शहर से टूट जाता है और उन्हें किश्तियों के सहारे इधर से उधर जाने के लिए मजबूर होना पड़ता है। उन्होंने सरकार से मांग की कि उनकी समस्या की तरफ ध्यान दिया जाए।

-----------------

उक्त समस्या ध्यान में आ गई है। तहसीलदार को मौके पर भेजकर पानी की स्थिति का पता लगाएंगे और जरूरी इंतजाम भी किया जाएगा।

-सुभाष खटक, एसडीएम, जलालाबाद

---

जल्द बनाकर दिया जाएगा पुल : आवंला

हलका विधायक रमिदर आवंला ने कहा कि यह समस्या उनके ध्यान में है। बीती दिनी उनके भाई ने उक्त गांव का दौरा कर सारी जानकारी दी है। जिस पर उन्होंने पंजाब सरकार के समक्ष इस समस्या को उठाया है। उन्होंने आश्वासन दिया कि जल्द ही इस समस्या से लोगों को निजात दिलाई जाएगी और पुल का निर्माण करवाया जाएगा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!