संस, अबोहर : श्री सनातन धर्म प्रचारक राम नाटक क्लब की ओर से आयोजित की जा रही भव्य रामलीला में शुक्रवार को रात कलाकारों की ओर से रावण वध का मंचन किया गया, जिसे देखकर श्री राम के जयघोष से पंडाल गूंज उठा।

भगवान श्री राम ने अंहकारी रावण तथा उनके भाइयों मेघनाद व कुंभकरण का वध कर लंका पर जीत हासिल की और माता सीता को उनके चंगुल से छुड़ाया। इस मौके पर राजिन्द्र दीपा ने सभी शहरवासियों को दशहरा पर्व की हार्दिक बधाई देते हुए कहा कि भगवान श्री राम ने अधर्म पर विजय हासिल कर राम राज्य की स्थापना की थी, लेकिन वर्तमान में समाज में फिर से बुराई बढ़ने लगी है, जिसका कारण कहीं न कहीं हम सभी लोग हैं। उन्होंने कहा कि हर व्यक्ति का सभय समाज के निर्माण में अहम योगदान होता है। इसलिए हम सभी को विजयदशमी पर यह संकल्प लेना चाहिए कि हम पाप व बुराई छोड़कर भगवान श्री राम के बताए मार्ग पर चलें। इस मौके पर छाबड़ा बर्तन स्टोर के संचालक सोहन लाल छाबड़ा, रमन कांटीवाल, गगनप्रीत सिंह थे। क्लब पदाधिकारियों ने सभी मुख्यातिथियों को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया।

एवी स्कूल में मनाया दशहरा संवाद सूत्र, फाजिल्का : आत्म वल्लभ पब्लिक सीनियर सेकेंडरी स्कूल में दशहरे के उपलक्ष्य में विशेष कार्यक्रम का आयोजन किया गया। विद्यार्थियों को भगवान श्री राम चंद्र जी के जीवन से परिचित करवाने के लिए रामायण के सभी पात्र राजा दशरथ, माता सुमित्रा, माता कौशल्या, माता कैकेयी, राम जी, लक्ष्मण जी, भरत जी, शत्रुधन जी, सीता माता, हनुमान जी को नाट्य रूप में प्रस्तुत किया।

इस दौरान पपेट शो के जरिये पूरी रामायण को बच्चों के सामने बहुत ही सरल ढंग से प्रस्तुत किया गया ताकि बच्चे उससे प्रेरणा ले सकें। आर्ट एंड क्राफ्ट के जरिये विद्यार्थियों में चित्रकला बनाने के गुण भरने के लिए रामायण से संबंधित मुखौटे बनाए गए। विद्यार्थियों की ओर से बनाए मुखौटों से ये आभास हो रहा था, जैसे वो किसी अनुभवी कलाकारों ने बनाए हों। स्कूल के चेयरमैन रमन वाट्स, प्रिसिपल संगीता तिन्ना व डायरेक्टर ने विद्यार्थियों को इस कला और अभिनय की प्रशंसा करते हुए उन्हें जीवन में भगवान श्री राम जी द्वारा दिखाए मार्ग पर चलन के लिए प्रेरित किया व दशहरे की शुभकामनाएं दीं।

Edited By: Jagran