संवाद सूत्र, जलालाबाद : संयुक्त किसान मोर्चा के आह्वान पर लखीमपुर खीरी में हुई घटना के विरोध में राष्ट्रपति के नाम पर जलालाबाद के तहसीलदार को ज्ञापन सौंपा गया। इस मौके यूनियन के नेताओं ने कहा कि लखीमपुर खीरी की घटना को तीन सप्ताह से अधिक समय बीत गया है, लेकिन अभी तक केवल जांच का सिलसिला ही जारी है, जिस कारण किसानों व देश में गुस्सा बढ़ता जा रहा है।

उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि पुलिस हिरासत में बंद आरोपित वीआइपी तरीके के साथ रह रहे हैं। उन्होंने यूपी पुलिस प्रशासन से मांग की कि उक्त मामले की जांच तेजी के साथ आगे बढ़ाई जाए और सभी आरोपितों को गिरफ्तार करके कार्रवाई की जाए। उन्होंने कहा कि एक तरफ केंद्र सरकार बातचीत करने के लिए दरवाजे खुले होने की बात कह रही है, दूसरी तरफ यह कहा जा रहा है कि अगर किसानों को बात करनी है तो वह कृषि कानूनों को रद्द करने की हठ छोड़ दें। उन्होंने कहा कि किसान पिछले एक साल से गर्मी सर्दी झेल रहे हैं, लेकिन केंद्र सरकार उन पर कोई ध्यान नहीं दे रही। उन्होंने मांग की कि केंद्र सरकार जल्द अपनी हठ छोड़कर इन कानूनों को रद्द करे। इस मौके सीनियर नेता मनदीप सिंह, डा. सुखचैन सिंह, महिद्र सिंह प्रधान अरनीवाला, सुरजीत सिंह, अमृतपाल सिंह, मेहर सिंह, सरदुल सिंह, गुरप्यार सिंह, गुरविंदर सिंह आदि उपस्थित थे। पंजाब निवेश सम्मेलन में उद्योगपतियों ने लिया भाग संवाद सूत्र, फाजिल्का : पंजाब सरकार द्वारा करवाए जा रहे प्रगतीशील पंजाब निवेश सम्मेलन में फाजिल्का जिले के उद्योगपतियों ने आनलाइन भाग लिया।

सम्मेलन में मुख्यमंत्री चरनजीत सिंह चन्नी ने निवेशकों को पंजाब में निवेश करने का न्योता देते कहा कि राज्य में उद्योगों के लिए बहुत ही अच्छा महौल है। उन्होंने कहा पंजाब का बुनियादी ढांचा, शानदार काम संस्कृति और सरकार की उद्योगों को उत्साहित करने की नीतियों के कारण राज्य में बड़े स्तर पर निवेश आ रहा है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार निवेशकों की हर प्रकार से मदद करती है और इसलिए इनवेस्ट पंजाब के तहत प्रयास किए जा रहे हैं। वित्तमंत्री मनप्रीत सिंह बादल ने कहा कि राज्य तेजी से आगे बढ रहा है। उधर जिला स्तर पर उपस्थित डिप्टी कमिश्नर बबीता कलेर ने जिले के उद्योगपतियों का स्वागत किया और कहा कि पंजाब सरकार द्वारा व्यापार को आगे ले जाने के लिए किए प्रयास व्यापारी वर्ग के लिए सार्थक साबित होंगे। उन्होंने कहा कि पंजाब राज्य व्यापार और उद्योग के विकास के लिए उत्तम प्लेटफार्म प्रदान करता है और अनुकूल वातावरण प्रणाली राज्य में उद्योगों की खुशहाली में बहुत सहयोग करती है। उन्होंने उद्योग विभाग को हिदायत की कि किसी भी उद्योगपति को कोई मुश्किल न आए और उनकी समस्या का पहल के आधार पर हल किया जाए। उन्होंने कहा कि एक जिला एक उत्पाद के तहत फाजिल्का जिले में किन्नू को चुना गया है। इस लिए किन्नू के साथ संबंधित उद्योग को और प्राथमिकता दी जा रही है। लेकिन किसी भी किस्म की उद्योग लगाने का इच्छुक उद्यमी उद्योग विभाग के साथ संपंर्क करे, उनको सभी मंजूरियां बिना देरी दी जाएंगी।

Edited By: Jagran