राज नरूला, अबोहर : कोरोना वायरस के कारण लोगों की जिदगी की रफ्तार पर ब्रेक लग गई है। कोरोना से बचाव के लिए सरकार द्वारा लगाए गए क‌र्फ्यू के कारण कई परिवारों की शादियां तक रुक गई है। नई आबादी निवासी एक व्यक्ति ने बताया कि उसकी बेटी की शादी 29 मार्च को होनी तय की गई थी। शादी के कार्ड व सभी तैयारियां पूरी कर ली गई थी।

उन्होंने बताया कि पहले जब मैरिज पैलेसों पर रोक लगी और 20 व्यक्तियों के एकत्रित होने की शर्त रखी गई तो उन्होंने 20 व्यक्तियों के साथ ही शादी करने का निर्णय लिया और इसके लिए 2 अप्रैल की तारीख तय की गई। लेकिन उसके बाद क‌र्फ्यू की घोषणा हो गई जिस वजह से उन्हें दो अप्रैल को भी शादी का कार्यक्रम रद करना पड़ा। गौरतलब है कि नवरात्रों में भी बहुत से परिवारों ने शादियां तय कर रखी थी क्योंकि लोग नवरात्रों में शादियां करने को शुभ मानते हैं लेकिन कोरोना के कारण सभी कार्यक्रमों पर ही ब्रेक लग गई है।

पंडित विद्या सागर ने बताया कि नवरात्रों में काफी शादियां थी और उनके पास दिन व रात की शादियों में फेरे करवाने की बुकिग थी परंतु अभी कोरोना के कारण सभी शादियां स्थगित होकर रह गई है। उन्होंने कहा कि परमात्मा ने जो समय निर्धारित कर रखा है उसी में ही शादी होगी। इसलिए लोगों को अपने स्वास्थ्य की चिता करनी चाहिए व कोरोना वायरस से बचने के लिए घरों के अंदर ही रहकर सरकार की हिदायतों का पालन करना चाहिए।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!