फाजिल्का, जागरण टीम: ठेका मुलाजिम संघर्ष मोर्चा पंजाब के आह्वान पर सीएम द्वारा लगातार छह बार बैठक करने से इन्कार करने के रोष स्वरूप ठेका कर्मचारियों ने विधायक जगदीप कंबोज की रिहायश के समक्ष रोष धरना दिया।

इस मौके मोर्चे के प्रांतीय प्रभारी व प्रेस सचिव सतनाम सिंह, जिला प्रभारी जसविंदर सिंह, ब्रांच प्रभारी गुरमीत सिंह आलमके ने कहा कि समूह सरकारी विभागों के आउटसोर्स व इनलिस्टमेंट ठेका कर्मचारियों के अस्थाई रोजगार को स्थाई करवाने के लिए संघर्ष चल रहा है और ठेका कर्मचारियों की मांगों का समाधान करने के लिए सीएम पंजाब के साथ पैनल मीटिंग की मांग की जा रही है, जिससे बातचीत से मांगों का समाधान हो सके।

लेकिन परेशानी यह है कि इस संघर्ष के दौरान सीएम के साथ लिखित रूप में बैठक तय करवाई जाती है, जिसके तहत तीन अप्रैल 2022 से अब तक मोर्चे को लगातार छह बार बैठक लिखित रूप में मिल चुकी है, लेकिन एन मौके पर सीएम के व्यस्त होने का जिक्र करते हुए बैठक आगे कर दी जाती है। जिसके तहत ही 18 नवंबर को होने वाली बैठक करने को इन्कार कर दिया था। इसी रोष स्वरूप संघर्ष किया जा रहा है।

मोर्चे के प्रभारियों ने कहा कि हम समूह विभागों के आऊटसोर्स व इनलिस्टमेंट ठेका कर्मचारी पिछले 10-15 वर्षों से सेवाएं दे रहे है, हमें सबंधित विभागों में शामिल करके बिना पक्षपात के रेगुलर किया जाए और इस मांग सबंधी आपसी बातचीत के जरिए ही समाधान करने के लिए सीएम पंजाब से पैनल बैठक करवाई जाए। अन्यथा सरकार द्वारा पैदा की जा रही मजबूरी के चलते संघर्ष को ओर तेज किया जाएगा।

इस मौके पर सुखचैन सिंह सोढी, कुंदन सिंह, राकेश सिंह, शिव शंकर, नरिंदर सिंह बाठ व भारतीय किसान यूनियन (एकता) उग्राहा से जिला मीत प्रधान गुरमीत सिंह मंनेवाला, जिला प्रचार सचिव सतपाल सिंह, ब्लाक सचिव सुदर्शन सुल्ला, ब्लाक प्रभारी दर्शन लाल, शेर सिंह सैदोके, सुरजीत सिंह व अन्य उपस्थित रहे।

Edited By: MOHAMMAD AQIB KHAN

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट