संवाद सहयोगी, फाजिल्का

डिप्टी कमिश्नर मनप्रीत ¨सह ने अलग-अलग सरकारी व प्राइवेट बैंकों को कहा कि आरबीआई की हिदायतों अनुसार कोई भी बैंक अधिकारी आम जनता से लाए गए फटे-पुराने नोटों को लेने से इनकार नहीं कर सकता। जिला प्रशासनिक कांप्लेक्स में की गई तिमाही बैठक की अध्यक्षता करते हुए उन्होंने सरकारी बै¨कग स्कीमों का लेखा-जोखा किया। इस मौके उन्होंने बैंक अधिकारियों को हिदायत की कि लंबित मामलों का जल्द से जल्द निपटारा किया जाए। उन्होंने यह भी आदेश दिए कि निर्धारित लक्ष्यों को तय समय पर सौ प्रतिशत मुकम्मल किया जाए।

उपायुक्त ने बैंक अधिकारियों को कहा कि सरकारी स्कीमों के साथ संबंधित लोन मामलों का कोई भी योग्य केस बकाया न रहने दिया जाए। उन्होंने बैंकों को हिदायत की कि वह प्राथमिक सैक्टर के तहत बेरोजगार नौजवानों, किसानों, गरीबों, महिलाओं व पिछड़े वर्गो की भलाई के लिए सरकार की तरफ से मुहैया करवाई जा रही स्कीमों को पूरा करने में कोई लापरवाही या ढील न बरतें। किसी भी जरूरतमंद योग्य लाभपात्री को सरकारी स्कीमों का लाभ देने से वंचित न रहने दिया जाए। इस मौके आरबीआई के सहायक जनरल मैनेजर संजीव केन, एलडीएम परमजीत कोचर व अन्य उपस्थित थे

Posted By: Jagran