संवाद सहयोगी, फाजिल्का : पिछले लंबे समय से खस्ता हालत में पड़ी सिविल अस्पताल के एमरजेंसी की दीवारों की अब नुहार बदल दी है। यह कार्य फाजिल्का के सिविल सर्जन डॉ. दलेर मुल्तानी ने लोगों के सहयोग से किया गया है, जिसमें कोई भी सरकारी पैसा खर्च नहीं हुआ हैं। सिविल सर्जन डॉ. दलेर सिंह मुलतानी की ओर से एक अगस्त 2019 को अपना पद संभालने के बाद सबसे पहले सिविल अस्पताल में दी जाने वाली प्राथमिक सेवाएं और एमरजेंसी ब्लॉक पर नजर जाने के बाद पता लगाया कि एमरजेंसी वार्ड की बिल्डिग बहुत खस्ता हालत में है। डॉ. मुलतानी ने अपने पहले दौरे के दौरान स्टॉफ को विश्वास दिलाया कि अस्पताल में साफ-सफाई और एमरजेंसी सेवाओं को पहल के आधार पर ठीक किया जाएगा। वीरवार को करीब डेढ़ महीने के बाद सिविल अस्पताल फाजिल्का की एमरजेंसी बिल्डिग का नया रूप दिखाई देने लग गया है और एमरजेंसी के टूटे हुए बाथरूम और टॉयलेट को रिपेयर करवा दिया गया है। इसके साथ ही दाखिल मरीजों के लिए बने हुए वार्डों को नया पेंट और दरवाजे-खिड़कियों को भी रिपेयर करवाकर, मरीजों के दाखिले के समय बीमारी के साथ लड़ने के मनोबल को बढ़ाया है। डॉ. मुलतानी जो कि पिछले लंबे समय से अपनी पोस्टिग के दौरान अस्पतालों की कायाकल्प करते आ रहे हैं, इस लड़ी में उनकी सेवानिवृत्ति से पहले यह आखिरी मौका है कि वह फाजिल्का के अस्पताल की कायाकल्प कर देंगे। डॉ. मुलतानी द्वारा स्वास्थ्य जागरूकता के बारे में लिखवाए गए स्लोगन की समूह स्टॉफ और आम लोगों द्वारा प्रशंसा की जा रही है। जिसमें खास कर मेरी बेटियां मेरी शान, मां के हाथ का बना खाना, सबसे बढि़या खाना और स्टॉफ को उत्साहित करने के लिए हमारा वादा आपकी सेहत, स्वच्छ भारत स्वस्थ भारत आदि स्लोगन लिखवाए गए हैं। अंत में डॉ. मुलतानी ने समूह स्टॉफ से अपील करते हुए कहा कि जब हम अपने काम को ही अपना धर्म और काम वाली जगह को ही मंदिर समझना शुरू कर देंगे, हमें तरक्की के रास्ते पर आगे बढ़ने से कोई नहीं रोक सकता। इस मौके पर एसएमओ डॉ. सुधीर पाठक, डॉ. रिकू चावला, डॉ. काजमी रैना, अनिल धामू जिला मास मीडिया अधिकारी, राजेश कुमार जिला प्रोग्राम मैनेजर, डिप्टी मास मीडिया अधिकारी सुखविंदर कौर, डॉ. रोहित गोयल, ब्रोड्रिक, दविंदर कौर और अन्य स्टॉफ मेंबर मौजूद थे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!