संवाद सहयोगी, फाजिल्का : जिला बार एसोसिएशन का एक शिष्टमंडल अपनी समस्याओं को लेकर पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी से मिला। प्रधान गुलशन महरोक के नेतृत्व में मिले शिष्टमंडल ने फाजिल्का में उपभोक्ता अदालत स्थापित करवाने में सहयोग करने की पूरजोर मांग की। उन्होंने अपील करते हुए कहा कि यहां जल्द से जल्द उपभोक्ता अदालत स्थापित करवाई जाए, ताकि उपभोक्ताओं को आ रही परेशानी से निजात मिल सके।

बता दें कि साल 2011 में फाजिल्का जिला बनने के बावजूद भी यहां पर उपभोक्ता अदालत की स्थापना नहीं हुई। लोगों को अपने केसों के लिए फिरोजपुर अदालत का रूख करना पड़ता है। फाजिल्का के लोगों को 85 किलोमीटर और अबोहर के लोगों को 110 किलोमीटर का सफर फिरोजपुर के लिए तय करना पड़ता है, जिस कारण कई लोग इन परेशानियों से बचने के लिए कंज्यूमर कोर्ट का सहारा ही नहीं लेते। पंजाब के 23 जिले हैं, लेकिन फाजिल्का जिला बनने के 10 वर्ष बाद भी लोगों को कंज्यूमर एक्ट का लाभ नहीं मिल पा रहा है। उपभोक्ताओं को वस्तुएं खरीदते समय उन पर अधिक चार्ज किए गए पैसे या गुणवत्ता ठीक न होने के कारण कंज्यूमर एक्ट के तहत संबंधित दुकानदार या उत्पादन करने वाले फर्म या कंपनी की जवाबदेही तय की जाती है, जिसके बाद कंज्यूमर कोर्ट में एक तय प्रक्रिया के तहत केस चलता है और दोनों पक्षों के लोगों को एक तय तारीख पर पेश होने का आदेश होता है फिर आमने-सामने दोनों की बातें सुनने के बाद कंज्यूमर कोर्ट उपभोक्ताओं को संतोषजनक फैसला सुनाते हुए मुआवजा दिलाती है। इसके अलावा वफद ने बार एसोसिएशन की ओर से कई समस्याओं संबंधी भी सीएम चन्नी को अवगत करवाया। इस मौके पर मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने शिष्टमंडल को विश्वास दिलाया कि जल्द ही इस को लेकर ध्यान दिया जाएगा और प्रयास किए जाएंगे। इस मौके शिष्टमंडल में जिला बार एसोसिएशन के सचिव श्रेणिक जैन, कोषाध्यक्ष विकास कौशल, एडवोकेट सुखजीत राय, रितेश गगनेजा, प्रवीण धंजू, गौरव शर्मा, अंग्रेज सिंह शामिल हुए।

Edited By: Jagran