संवाद सहयोगी, अबोहर : रॉबिनहुड आर्मी के 'भिक्षा से शिक्षा की ओर' अभियान के तहत स्लम बस्ती में लगाए समर कैंप का समापन रविवार को हुआ। समापन समारोह में सेवा भारती के प्रधान सतपाल गिल्होत्रा, जय मां चिंतपूर्णी साइकिल यात्रा संघ के प्रधान संजीव गिल्होत्रा, आशीष सेतिया व प्रवीण जुनेजा बतौर अतिथि पहुंचे समापन समारोह में देव ¨सह द्वारा बच्चों के लिए फूड ड्राइव का प्रबंध किया गयाए जबकि समारोह स्थल का इंतजाम पवन चराया ने किया। बच्चों ने रंगारंग कार्यक्रम प्रस्तुत कर अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन किया गया। रॉबिनहुड आर्मी के प्रमुख मेघा चराया ने बताया कि कैंप दौरान बच्चों को विभिन्न तरह की कलाएं सिखाई गई व बच्चों को स्कूल जाने के लिए तैयार किया गया। इस मौके पर अजय तंवर, श्रुति चराया, बेबी आहूजा, नीरू गुप्ता, न¨रदर, अभिनव, टोनी, आंकिश, प्रथम,सोनू शर्मा, सोनू ग्रोवर, अरुण, राजेश शाक्य, सिमरन, संजीव गांधी, शुभम, र¨वद्र, अंकित व मंगत ने सहयोग किया। मेरा अबोहर फ्री लीगल सर्विस संस्था के प्रमुख एडवोकेट अमित असीजा ने समिति के प्रयासों की प्रशंसा की। संस्था प्रमुख मेघा चराया ने बताया कि 'भिक्षा से शिक्षा की ओर' अभियान के तहत 27 बच्चे भिक्षा मांगने की दलदल में से निकालकर शिक्षा के आगे आए हैं, जिनमें से 6 बच्चे स्कूल जा रहे हैं, जबकि 21 की एडिमशन करवाई जा रही है। यह 21 बच्चे समर कैंप में भाग लेकर शिक्षा के प्रति जागरूक हुए हैं। मेघा ने बताया कि 15 अगस्त, 2017 को जब अबोहर में रॉबिनहुड आर्मी की शुरुआत की गई थी, जिसके तहत खाने की बर्बादी को रोककर सरप्लस फूड को गरीब परिवारों तक पहुंचाना है ताकि खाने की बर्बादी व बेकद्री भी न हो और उससे लोगों की पेट की भूख को भी शांत किया जा सके।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!