संवाद सहयोगी, अबोहर : पूर्व सहकारिता मंत्री सज्जन कुमार जाखड़ अपने परिवार के साथ शुक्रवार को सरकारी अस्पताल पहुंचे जहां उन्होंने कोरोना वैक्सीन लगवाई। इस अवसर पर पूर्व मंत्री ने कहा कि यह वैक्सीन पूर्णतय सुरक्षित है और 60 वर्ष से अधिक आयु के लोगों को इसे लगवाना चाहिए।

उधर, सरकारी अस्पताल की पीपी यूनिट प्रभारी लक्ष्मी रानी ने बताया कि शुक्रवार को सरकारी अस्पताल में 180 लोगों को वैक्सीन लगाई गई है जबकि 150 बीएएसएफ जवानों को कैंट में ही वैक्सीन लगाई गई। उन्होंने बताया कि सोमवार को स्वास्थ्य विभाग द्वारा अर्बन हेल्थ डिस्पेंसरियों में भी वैक्सीन शुरू करने की योजना है जिसके तहत सीडफार्म स्थित डिस्पेंसरी व संत नगरी-ईदगाह बस्ती स्थित डिस्पेंसरी में वैकसीन लगानी शुरू की जाएगी ताकि अधिक से अधिक लोगों को वैक्सीन लगाई जा सके।

बुजुर्गो के उत्साह से पूरा हो रहा कोरोना वैक्सीनेशन का लक्ष्य

सुभाष आनंद, फिरोजपुर :

कोरोना वैक्सीनेशन मुहिम ने धीरे धीरे रफ्तार पकड़नी शुरू कर दी है और फिरोजपुर जिला जोकि अपने लक्ष्य से लगातार पिछड़ता आ रहा था वह लक्ष्य से अधिक टीकाकरण कर रहा है। खास कर सिविल अस्पताल फिरोजपुर जोकि जिले का मुख्य सेंटर है निर्धारित लक्ष्य को पीछे छोड़ रहा है। स्थिति का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि रखे गए 100 टीका लगवाने के लक्ष्य को लगातार पार किया जा रहा है। ये संख्या 160 तक पहुंच चुकी है। यहीं नही सेहत विभाग को अपने फ्रंट वारियर का भले ही सहयोग कम मिला है, लेकिन सीनियर सिटीजनों में टीका लगवाने को भारी उत्साह है।

पिछले सात दिनों में जिला अस्पताल में 600 लोगों को वैक्सीन लगाने का लक्ष्य रखा गया था, लेकिन 790 लोगों को वैक्सीन लगाई गई। पांच मार्च के दिन 100 टीका लगवाने का लक्ष्य था, लेकिन 120 लोगों को वैक्सीन लगाई गई, जबकि छह मार्च के दिन भी 100 का लक्ष्य था और टीके लगे 120। इसी तरह सात मार्च को भी 100 का लक्ष्य था और 90 लोगों को वैक्सीन लगाई गई। आठ मार्च को 100 टीके लगाने का लक्ष्य रखा गया और 120 लोगों के वैक्सीन लगाई गई। इसी तरह नौ मार्च को 100 का लक्ष्य था, जबकि 160 लोगों को वैक्सीन लगाई गई । 10 मार्च के दिन भी 100 का लक्ष्य रखा गया, लेकिन 140 लोगों का टीकाकरण किया गया।

दूसरी ओर शहर का अनिल बागी मेमोरियल अस्पताल टीकाकरण के मामले में सबसे आगे चल रहा ह । अस्पताल में डायरेक्टर कमल बागी ने कहा कि वैक्सीनेशन मुहिम के तहत अस्पताल में 250 रुपये में टीका लगाया जा रहा जिसमें उनके खाते 150 रुपये आ रहे हैं, जबकि 100 रुपये राज्य सरकार के खाते में जा रहे हैं।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप