संवाद सूत्र, फाजिल्का :

फाजिल्का जिले में कोरोना का आंकड़ा लगातार बढ़ता ही जा रहा है। रोजाना कोरोना के रिकार्ड टूट रहे हैं। शनिवार को जहां 408 लोगों की रिपोर्ट कोरोना पाजिटिव पाई गई है। वहीं जिले में अब तक की सर्वाधिक 20 लोगों की कोरोना से मौत भी हुई है। जिनमें 12 लोग फाजिल्का तहसील, 7 लोग अबोहर तहसील व एक व्यक्ति जलालाबाद तहसील से संबंधित है। जिससे जिले में कोरोना से मौतों का आंकड़ा बढ़कर 276 हो गया है।

फाजिल्का जिले में कोरोना की मौजूदा स्थिति की बात करें तो जिले में अब तक संक्रमित मामलों की संख्या 13925 है, जबकि इनमें से 9177 लोग कोरोना को हराकर तंदरूस्त हो चुके हैं। जबकि जिले में 4471 मामले एक्टिव हैं। इसके अलावा शनिवार को 408 नए मामले सामने आए हैं और 20 लोगों की मौत भी हुई है। डीसी हरीश नायर ने कहा कि कोरोना के प्रसार को फैलने से रोकने के लिए सावधानियों का पालन करना हर व्यक्ति के लिए जरूरी है। उन्होंने कहा कि जिस किसी व्यक्ति ने कोविड का टैस्ट करवाने के लिए अपना सैंपल दिया हो और जब तक रिपोर्ट नहीं आती, वह अपने आप को परिवार से दूर रखे और एकांतवास में रहना यकीनी बनाया जाए। उन्होंने कहा कि एकांतवास में रहने का उद्देश्य जो रिपोर्ट सकारात्मक आती है तो दूसरे पारिवारिक सदस्य भी इस महामारी की चपेट में आने से बच जाएं। उन्होंने कहा कि जब तक रिपोर्ट का नतीजा नहीं आता तब तक पारिवारिक सदस्यों से दूर रहकर सावधानियों की पालना करनी यकीनी बनाई जाए। उन्होंने कहा कि कोरोना की चेन तोड़ना बहुत जरूरी है। उन्होंने कहा कि ऐसे व्यक्ति के लिए जरूरी है जिसके परिवार में कोई सकारात्मक केस हो, वह अपनी जांच करवाने के बाद रिपोर्ट आने तक अपने आप को दूसरे सदस्यों से अलग रहे, जिससे अपने आसपास सदस्यों को इस महामारी से बचा सके। उन्होंने कहा कि इसके अलावा जिस किसी को लक्षण हो तो भी जांच करवानी चाहिए।