संवाद सहयोगी, फाजिल्का : भले ही फाजिल्का में अभी तक कोरोना का कोई भी पॉजिटिव केस सामने नहीं आया है, लेकिन पंजाब में इसके मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। जिसके चलते सेहत विभाग ने अपने स्तर पर तैयारियां करनी शुरू कर दी है। विभाग ने फाजिल्का के 13 स्कूलों और पांच प्राइवेट अस्पतालों को क्वारंटाइन सेंटर में तबदील करने की तैयारी शुरू कर दी गई है। इसके साथ ही इन स्कूलों और अस्पतालों में इनके प्रिंसिपल व प्रमुखों को इंचार्ज लगाया गया है। इन इंचार्जो को कमरों की साफ सफाई, पानी, बिजली, पंखे, रोशनी व अलग से शौचालय का प्रबंध यकीनी बनाने के आदेश दिए गए हैं। इन स्कूलों में फाजिल्का का सरकारी मॉडल सीनियर सेकेंडरी स्कूल निहालखेड़ा, सरकारी स्कूल लड़के फाजिल्का, सरकारी स्कूल अरनीवाला, रेडियेंट पब्लिक स्कूल माहुआना बोदला, डीसी डीएवी स्कूल, सरकारी स्कूल खुईखेड़ा, सरकारी कन्या स्कूल फाजिल्का, सरकारी स्कूल घल्लू, गॉडविन स्कूल, सरकारी हाई स्कूल बनवाला हनवंता, एसकेबी डीएवी स्कूल व एवी पब्लिक स्कूल शामिल हैं। इसके अलावा नशा मुक्त केंद्र जट्टवाली, सिविल अस्पताल फाजिल्का, जस्सी अस्पताल फाजिल्का, अमृत अस्पताल फाजिल्का व नशा मुक्ति केंद्र फाजिल्का में क्वारंटाइन सेंटर बनाया जा रहा है।

सिविल सर्जन डॉ. सुरिद्र सिंह ने बताया कि जिला फाजिल्का में अभी तक एक भी कोरोना पॉजिटिव केस नहीं है। लेकिन अगर मरीजों की संख्या बढ़ती है, तो उन्हें क्वारंटाइन करने के लिए सेहत विभाग अपने स्तर पर लगातार प्रयास कर रहा है। इसके तहत 18 क्वारंटाइन सेंटर बनाए गए हैं। उन्होंने फाजिल्का के लोगों से अपील की कि वह सेहत विभाग द्वारा जारी हिदायतों का पूर्ण पालन करें।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!