संवाद सूत्र, फाजिल्का : जिले के गांव आतूवाला में 45 साल से अधिक के 100 फीसद लोगों की कोरोना वैक्सीनेशन हो चुकी है। वरिष्ट चिक्तिसा अधिकारी डा. बबिता ने बताया कि ब्लाक भीमेशाह के तहत आते विभिन्न गांवों में सैंपलिग व वैक्सीनेशन अभियान चलाया जा रहा है।

ब्लाक के तहत आते सब सैंटर आलमके का गांव आतूवाला जिले का पहला गांव बन गया है, जिसमें 45 वर्ष से अधिक वाले सभी व्यक्तियों की वैक्सीनेशन पूरी हो चुकी है। उन्होंने कहा कि इस कार्य में ब्लाक के स्टाफ सदस्यों के साथ-साथ गांव के सरपंच सजवार सिंह, पंचायत सदस्य कर्मजीत सिंह, सब्बू सिंह, मनजीत कौर, कैलाश कौर का पूरा सहयोग रहा है। डा. बबिता ने कहा कि कोविड महामारी के दौरान केंद्र सरकार व पंजाब सरकार का पूरा जोर लगा हुआ है कि इस महामारी को समाप्त किया जा सके और इसके लिए सैंपलिग व वैक्सीनेशन अभियान जोरों शोरों से चलाने के लिए गांवों में प्रचार प्रसार करवाया जा रहा है, लेकिन फिर भी कुछ गांवों के लोगों में जागरूकता की कमी होने के कारण वैक्सीनेशन करवाने से कतरा रहे हैं। उन्होंने समूह क्षेत्र वासियों को आह्वान करते हुए कहा कि कोविड महामारी को समाप्त करने के लिए वैक्सीनेशन करवाने की आवश्यकता है ताकि अपनी ओर अपाने परिवार की पूरी सुरक्षा की जा सके। इस लक्ष्य को पूरा करने के लिए आलमके सब सेंटर के हेल्थ वर्कर प्रेम सिंह, आशा फैसीलेटर कैलाश रानी, आशा वर्कर बलजीत कौर ने पूर्ण सहयोग किया।

खुईखेड़ा में 710 लोगों ने करवाई वैक्सीनेशन संवाद सूत्र, फाजिल्का : खुईखेड़ा ब्लाक के एसएमओ डा. रोहित गोयल ने बताया कि गांव कल्लरखेड़ा, गुमजाल एवं सरकारी सीनीयर सेकेंडरी स्कूल खुईखेड़ा में सेहत विभाग की ओर से मंगलवार को कुल 517 लोगों को कोरोना वैक्सीन लगाई गई । इससे पहले बीते 2 दिनों में 193 लोगों के टीकाकरण किया गया।

इस मौके बीईई सुशील कुमार ने बताया कि अगर कोरोना को जड़ से खत्म करना है और इससे होने वाली मौतों से बचना है तो प्रशासन द्वारा दी जा रही हिदायतों का पालन किया जाना बहुत जरूरी है। उन्होंने कहा कि 18 से 44 व 45 से ऊपर की आयु के सभी व्यक्तियों को कोरोना वैक्सीन जरूर लगवानी चाहिए। कोरोना का यह टीकाकरण सप्ताह के सातों दिन खुईखेड़ा में होता है। इस मौके नोडल अफसर डा. चरणपाल, डा. सक्षम, डा. लवप्रीत ने लोगों से अपील की कि वह जल्द से जल्द टीकाकरण करवाएं।

Edited By: Jagran