जेएनएन, फतेहगढ़ साहिब। सोशल मीडिया का गलत प्रयोग कोई एेसे भी कर सकता है इसके बारे में शायद ही किसी ने सोचा होगा। यह शातिर बदमाश फेसबुक पर लापता लोगों के लिए बनाए पेजों से लापता लोगों की जानकारी लेता था। इसके बाद उनके परिजनों से लाखों रुपये की फिरौती वसूलता था। पुलिस ने शातिर विजय वर्मा उर्फ गोरी को गिरफ्तार किया है। वह अमृतसर के जंडियाला गुरु में पुराना बाजार स्थित कसाई वाली गली का रहने वाला है। वह पहले भी दो बार इस तरह फिरौती मांगकर लोगों को ठग चुका है।

फतेहगढ़ साहिब के गांव चनारथल कलां का मनप्रीत सिंह माता गुजरी कॉलेज में पढ़ता है। चार अक्टूबर को वह घर से कॉलेज के लिए गया, लेकिन वापस नहीं आया। मनप्रीत के पिता सतनाम सिंह ने आठ अक्टूबर को थाना मूलेपुर में गुमशुदगी की शिकायत दर्ज करवा दी। दो दिन पहले सतनाम सिंह के मोबाइल पर किसी व्यक्ति का फोन आया।

उसने कहा उसने मनप्रीत को अगवा कर लिया है। सही सलामत उसे वापस लेने के लिए छह लाख रुपये देने होंगे। ये पैसे लेकर वह अमृतसर बस स्टैंड पर पहुंच जाए। सतनाम ने फिरौती के लिए आए फोन की जानकारी पुलिस को दे दी। फतेहगढ़ साहिब पुलिस की एक टीम ने मोबाइल फोन की लोकेशन ट्रेस कर फिरौती मांगने वाले को अमृतसर से गिरफ्तार कर लिया।

परिवार ने फेसबुक पेज पर अपलोड की थी सूचना

छात्र मनप्रीत सिंह का अभी भी पुलिस पता नहीं लगा पाई है। परिवार ने बेटे के गुमशुदा होने सूचना फेसबुक पेज 'भला हो भला पर डाली थी। आरोपित विजय ने उस पोस्ट से मनप्रीत सिंह की फोटो और परिवार वालों का नंबर ले लिया। बाद में पिता को फोन कर छह लाख रुपये फिरौती मांग ली।

दाढ़ी कटवाकर अपना हुलिया बदल लेता था आरोपित

एसएसपी अल्का मीना ने बताया कि आरोपित बहुत ही शातिर है। फिरौती लेने के लिए उसने अपनी दाढ़ी कटवाकर हुलिया बदल लिया था। वह ज्यादातर फेसबुक पर एक्टिव रहता है। आरोपित विजय वर्मा जंडियाला गुरु में अपने घर में ही जूते-चप्पल की दुकान चलाता है।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

Posted By: Kamlesh Bhatt

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!