-- अकाली दल को छोड़कर कांग्रेस में शामिल हुए गुरप्रीत बावा व साथियों का विधायक कुलजीत नागरा ने किया सम्मान

जागरण संवाददाता, फतेहगढ़ साहिब: जिला परिषद और पंचायत समिति के चुनाव से पहले शिरोमणि अकाली दल (शिअद) को बड़ा झटका लगा है। सहकारी सभा चनारथल कलां के प्रधान गुरप्रीत ¨सह बावा ने अपने साथियों गुरकृपाल ¨सह चिल्लायेगा, प्रीतम ¨सह जांगला, दिलबाग ¨सह नीटा, कुलवंत ¨सह, सुक्खा जांगला, जसविन्दर ¨सह कंग, लखविन्दर ¨सह लक्खा, निशान ¨सह शाही, भूपिन्दर ¨सह फौजी, जैमल ¨सह शाही, जगनूर ¨सह, बलविन्दर ¨सह जांगला समेत शिरोमणि अकाली दल को छोड़ कर कांग्रेस में शामिल होने का ऐलान किया है। बावा और साथियों के कांग्रेस में शामिल होने पर विधायक कुलजीत ¨सह नागरा ने उनका स्वागत किया और भरोसा दिया कि पार्टी में उनको मान सम्मान दिया जायेगा।

मीडिया के साथ बातचीत करते हुए विधायक नागरा ने कहा कि कांग्रेस पार्टी जिला परिषद और ब्लाक समिति का चुनाव विकास के नाम पर लड़ रही है। सरकार की तरफ से चनारथल कलां को सब तहसील का दर्जा देकर गांववासियों की लंबे समय की मांग पूरी की गई है। चनारथल कलां से बालपुर, चनारथल कलां से अतापुर और चनारथल कलां से भल्ल माजरा की सड़कों की 13 सालों बाद मरम्मत करवाई गई है । अकाल-भाजपा सरकार ने 10 सालों में •िाले के सबसे बड़े गांव के विकास को हमेशा अनदेखा किया है।

शिरोमणि अकाली दल छोड़ कर कांग्रेस में शामिल हुए सहकारी सभा के प्रधान गुरप्रीत ¨सह बावा ने कहा कि उन्होंने विधायक नागरा की तरफ से हलके में करवाए जा रहे विकास कार्यो को देखते हुए कांग्रेस में शामिल होने का फैसला किया है। उन्होंने विधायक नागरा को विश्वास दिलाया कि वे और उनके साथी जिला परिषद और ब्लाक समिति के मतदान में कांग्रेसी उम्मीदवारों को बड़ी जीत दिलाएंगे।

इस मौके पर इन्दरपाल ¨सह, परमजीत ¨सह ठेकेदार, ठेकेदार अवतार ¨सह, भूपिन्दर ¨सह बधौछी, बलजिन्दर ¨सह अतापुर, गुरमुक्ख ¨सह पंडराली, नंबरदार जगदीप ¨सह, लखविन्दर ¨सह, करनवीर ¨सह, राजकुमार आढ़ती, परमिन्दर ¨सह नोनी, प्रदीप ¨सह, हरिन्दर ¨सह सूबेदार, कृष्ण लाल, एडवोकेट मनप्रीत ¨सह, गुरसेवक ¨सह सोनी, महेन्दर ¨सह ़फौजी, कर्मजीत ¨सह, बघरीत ¨सह, राम ¨सह, गुरमेल ¨सह, सवर्नदीप ¨सह रीठा, निरभय ¨सह नोपी, गुरिन्दर ¨सह, इन्द्रजीत ¨सह, प्रगट ¨सह, कमल खोजेमाजरा, सुरिन्दर ¨सह रिम्पा, सुरिन्दरपाल ¨सह व गुरजंट ¨सह आदि उपस्थित रहे ।

Posted By: Jagran