संवाद सहयोगी, फतेहगढ़ साहिब : 26 जनवरी का दिन देशवासियों के लिए गौरव का दिन है, क्योंकि लाखों योद्धाओं की कुर्बानियों ने देश को आजाद करवाने में अपना बहुमूल्य योगदान डाला है। 26 जनवरी 1950 को हमारे देश का संविधान लागू हुआ था, जिसमें प्रत्येक भारतीय को समानता का हक दिया गया है। इसलिए यह सबका फर्ज बनता है कि इस महान दिन पर उन बहादुर योद्धाओं को श्रद्धासुमन अर्पित करें।

यह बात गणतंत्र दिवस पर माधोपुर के नए बने खेल स्टेडियम में तिरंगा फहराने की रस्म अदा करते हुए कैबिनेट मंत्री ब्रह्म मोहिंद्रा ने कही। इसके बाध उन्होंने मार्च पास्ट की सलामी ली। इस मौके पर मुख्य अतिथि ने जिले के विभिन्न क्षेत्रों में श्रेष्ठ कार्य करने वाले लोगों, कोविड खिलाफ जंग में योगदान देने वाले अधिकारियों व कर्मचारियों सहित दूसरी गतिविधियों में श्रेष्ठ प्रदर्शन करने वालों का भी सम्मान किया। इस दौरान विधायक कुलजीत सिंह नागरा, जिला व सेशन जज निरभो सिंह, डीसी पूनम दीप कौर, एसएसपी सरताज सिंह चहिल, एडीसी जनरल अनीता दर्शी, एडीसी शहरी विकास अनुप्रिता जौहल, एडीसी विकास हरदयाल सिंह सहित दूसरे अधिकारी व अतिथि मौजूद थे। समारोह के दौरान विधायक कुलजीत सिंह नागरा का अपने साथियों समेत उठ कर चले जाना व एक दिमागी तौर पर परेशान व्यक्ति का मैदान में आना चर्चा का विषय रहा।

Edited By: Jagran