संवाद सहयोगी, सरहिद : जिला बार एसोसिएशन के वकीलों की ओर से पंजाबी गायक सिद्धू मूसेवाला के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए एक मांग पत्र डीएसपी रमिदर सिंह काहलों को दिया गया। बार एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष राजवीर सिंह ग्रेवाल, भारत वर्मा, अमरवीर सिंह टिवाणा ने मांग पत्र देने के बाद कहा कि गायक सिद्धू मूसेवाला ने एक गीत जंट्टी जियोने मोढ दी बंदूक वरगी में सिख जरनैल बीबी माई भागो जी के खिलाफ विवादित शब्दों का प्रयोग किया है। जिससे जहां बीबी माई भागो जी का अपमान हुआ है, वहीं सिखों के मनों को भारी ठेस पहुंची है। क्योंकि माई भागो जी की सिख धर्म को बहुत बड़ी देन है इसलिए उन्हें सिख जरनैल का खिताब दिया गया है। उन्होंने कहा कि पंजाबी गायक सिद्धू मूसेवाला ने ऐसा कर सिखों की सिख जत्थेबंदियों में भारी रोष पैदा हो रहा और सिद्धू मूसेवाले ने इस गाने से धार्मिक भावनाओं को भड़काने और प्रदेश के शांतिमय माहौल को खराब करने की कोशिश की है, जिसे कभी भी बर्दाश्त नहीं किया जा सकता। बार एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष ने मांग करते कहा कि इस गीत पर पाबंदी लगाकर सख्त कार्रवाई की जाए। वकीलों ने कहा कि इस गाने के लिखारी और इस वीडियो को जारी करने वाली कंपनी के खिलाफ भी तुरंत केस दर्ज होना चाहिए। उन्होंने कहा कि आए दिन ही कौम के महान यौद्धाओं को लच्चर गीतों का हिस्सा बनाकर पेश करना गायकों की बहुत ही घटिया मानसिकता को पेश करता है। बार एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष राजवीर सिंह ग्रेवाल ने कहा कि हमारे समाज में गायकों को बहुत ही उच्च दर्जा दिया जाता है, लेकिन खुद को मशहूर करने के लिए माई भागो जैसी सिख जरनैल का नाम प्रयोग करना बहुत ही निदनीय है। उन्होंने चेतावनी देते कहा कि यदि पुलिस ने गायक सिद्धू मूसेवाला के खिलाफ कोई कार्रवाई न की तो उसके खिलाफ अदालत में केस दायर किया जाएगा।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!