संवाद सहयोगी, कोटकपूरा

शहर की करीब दर्जन भर सामाजिक व धार्मिक संगठनों के सक्रिय सदस्य व ¨डगडांग ग्रुप के संचालक व्यवसायी विजय मित्तल व भारतीय स्टेट बैंक के सेवानिवृत्त प्रबंधक विनोद मित्तल की माता सवित्री देवी का निधन हो गया था। उनकी आत्मिक शांति के लिए कोटकपूरा की अग्रवाल सभा भवन में आयोजित श्रद्धांजलि समारोह के दौरान सोमवार को बड़ी संख्या में शहर वासियों, धार्मिक सामाजिक व व्यापारिक संगठनों के प्रतिनिधियों व सगे संबंधियों ने उन्हें श्रद्धांजलि अíपत की। अपने जीवन के करीब 31 वर्ष भक्ति के मार्ग को समर्पित कर चुकी माता सवित्री देवी का 87 वर्ष की आयु में 17 अगस्त को निधन हो गया था।

माता सवित्री देवी के निधन के बाद आयोजित श्रद्धांजलि समारोह के दौरान उन्हें याद करते हुए पुजारी रवि शर्मा व अन्य वक्ताओं ने माता सवित्री देवी को एक आदर्श महिला व परिवार की मार्गदर्शक करार देते हुए कहा कि उन्ही के मार्गदर्शन के चलते आज मित्तल परिवार का शहर में एक विलक्षण नाम व सम्मान है। वक्ताओं ने बताया कि माता सवित्री देवी ने करीब इक्कतीस वर्ष पहले मोह माया का त्याग कर सन्यास धारण कर लिया था व हरिद्वार में करीब बीस वर्ष की कठिन तप के बाद करीब दस वर्ष पहले कोटकपूरा लौट आए थे, लेकिन यहां परिवार के साथ रहते हुए भी उन्होने भक्ति मार्ग का ही अनुसरण किया व कई लोगों को धर्म कर्म के कार्य के साथ जोड़ा। एक सम्मानित धार्मिक महिला के तौर पर उनका परिवार व कोटकपूरा में काफी समान था। माता सवित्री देवी को आज श्रद्धासुमन अíपत करने वालों में बालाजी सेवा मंडल, राधा माधव संकीर्तन मंडल, अग्रवाल सभा, अग्रवाल सेवा समति, किराना ऐसोसिएशन, फ्रेंडस क्लब, श्री राधा कृष्ण मित्र मंडल गौ सेवा सम्मति, श्री श्याम परिवार संघ, बैंक कर्मचारी संगठन, लायंस क्लब कोटकपूरा, लायंस क्लब रायल, लायंस क्लब विश्वास, अलाइंस क्लब के कार्यकर्ताओं पारिवारिक मित्रों व सगे संबंधी व बडी संख्या में शहर वासी शामिल थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!