संवाद सहयोगी, फरीदकोट

राजस्थान में सांझेदारी में खरीदी जमीन के विवाद में शिअद

नेता व नगर सुधार ट्रस्ट के पूर्व चेयरमैन हरिन्द्रजीत सिंह समरा के बेटे

राजवीर सिंह पर फायरिग करने का मामला सामने आया है। इस में राजवीर सिंह बाल बाल बच गए। पुलिस ने उनके बयान पर गांव मचाकी कलां निवासी मनप्रीत सिंह व उसके पिता परमजीत सिंह के खिलाफ केस दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है। पुलिस को दिए बयान में राजवीर सिंह ने बताया कि उनके पिता ने गांव मचाकी कलां के परमजीत सिंह के

साथ मिलकर राजस्थान में जमीन खरीदी थी जिसको लेकर उनका आपस में अदालत में केस चल रहा था जिसे वह जीत चुके हैं। परमजीत सिंह व उसके बेटे मनप्रीत सिंह द्वारा उन्हें धमकियां दी जा रही थी। मंगलवार रात को वह अपनी कार में गांव मेहमुआना में अपने दोस्त यशप्रीत सिंह से मिलने जा रहा था। रास्ते में सादिक रोड पर छावनी के टैंक वाले गेट के पास पीछे से जीप में सवार होकर आए मनप्रीत सिंह ने दो बार उसकी कार को टक्कर मारी और बाद में उसपर फायर किया जोकि उसकी कार के पिछले शीशे को चीरते हुए अगली साइड के शीशे व डैस बोर्ड पर लगा।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!