संवाद सहयोगी, फरीदकोट

मेडिकल प्रैक्टिशनर एसोसिएशन ब्लाक फरीदकोट की मासिक बैठक डा. अमृतपाल सिंह टैहना की अध्यक्षता में हुई। बैठक में दो नए सदस्यों ने सदस्यता के लिए अप्लाई किया। पिछले दिनों लिए गए अहम फैसले लागू किए गए, जिस में सभी सदस्यों ने सहमति दी।

ब्लाक प्रधान डा. अंमृतपाल सिंह टैहना ने कहा कि जो अपनी ब्लाक में फैसले लागू किए थे वह आज से लागू किए गए हैं। बैठक का समय एक से तीन बजे तक ही होगा। लेट आने वाले साथी से जुर्माना लिया जाएगा।

स्वर्गवासी जगजीत सिंह खालसा की याद में लगाए गए मेडिकल कैंप की प्रशंसा की। साथियों को प्रमाण पत्र और पहचान पत्र भी बांटे गए। जिला प्रधान डा रशपाल सिंह संधू की सेहतयाबी को ले कर कामना भी की गई, जो कि बीते दिनों बीमारी से पीडित थे। ---------------- साइकिलों के पीछे रिफ्लेक्टर लगाना जरूरी संवाद सूत्र, श्री मुक्तसर साहिब

एसएसपी सरबजीत सिंह के दिशा निर्देश पर बड़े वाहनों पर रिफ्लेक्टर लगाने के बाद सड़क सुरक्षा पर काम कर रही मुक्तिसर वेलफेयर क्लब द्वारा शनिवार की रात को सड़कों पर साइकिलों से सफर करने वाले व्यक्तियों की जान की रक्षा के लिए 70 से अधिक साइकिलों पर रिफ्लेक्टर लगाए गए।

इस मौके पर विशेष तौर पर जिला ट्रैफिक इंचार्ज हरजोत सिंह तथा मुक्तिसर वेलफेयर क्लब के प्रधान जसप्रीत सिंह छाबड़ा उपस्थित हुए। छाबड़ा ने बताया कि रात के समय जो लोग साइकिलों पर अपने घरों को जाते हैं साइकिलों पर लाइटें न होने के कारण बड़े वाहनों को इन का पता नहीं लगता जिससे कई बार घटनाएं हो चुकी हैं। इनको रोकनो के लिए संस्था ने वाहनों के पीछे रिफ्लेक्टर लगाए। उन्होंने कहा कि पांच सौ से अधिक साइकिलों के पीछे रिफ्लेक्टर लगाए जाएंगे। हम सड़क हादसों को रोकने के लिए विशेष उपराले कर रहे हैं। उन्होंने साइकिलों चालकों को भी अपील की है कि वह हमारे पास से रिफ्लेक्टर प्राप्त कर अपने साइकिलों पर लगवा सकते है।

जिला ट्रैफिक इंचार्ज हरजोत सिंह ने कहा कि बहुत से मजदूर मजदूरी करने के साइकिलों पर आते है तथा रात के समय जब वह अपने घर जाते हैं तो सड़कों पर लाइटों न होने के कारण साइकिलों चालकों का सड़कों पर चलते बहुत कम पता लगता है और हादसा हो जाता है। उन्होंने कहा कि हमारी तरफ से यह मुहिम लगातार चलाई जाएगी और होने वाले सड़की हादसों को रोका जाएगा इस मौके पर हरकृष्ण सिंह व जसवंत सिंह आदि उपस्थित थे।

Edited By: Jagran