देवानंद शर्मा, फरीदकोट

शनिवार को संगरूर जिले के स्कूल वैन में आग लगने की घटना से मृत हुए चार बच्चों के बाद सोमवार को प्रदेश सरकार के विभिन्न विभागों के अधिकारी हरकत में दिखाई पड़े। सड़क पर एडीसी, एसडीएम, परिवहन विभाग व ट्रैफिक पुलिस के अधिकारी सड़कों पर स्कूल वैनों की जांच करते हुए दिखाई पड़े। जिले भर में 119 स्कूल वाहनों के चालान काटे गए जबकि 18 वाहनों को जब्त कर थानों में बंद किया गया।

ट्रांसपोर्ट विभाग के सुखविदर सिंह बराड़ का कहना है, ट्रांसपोर्ट विभाग की तरफ से स्पेशल चेंकिग की गई। अतिरिक्त डिप्टी कमिश्नर गुरजीत सिंह की तरफ से जैतो सब डिविजन के अंदर पड़ते स्कूली बसें की स्पेशल चेकिग की गई, जिसके अंतर्गत शर्तों पुरी न करने वाले 4 स्कूली बसों को जब्त करने के साथ ही 17 बसों का चालान किया गया है। उन्होंने कहा कि स्कूली बसों की आरसी और अन्य जरूरी कागजात चालक के पास वाहन चलाते समय होने चाहिए, नहीं तो वाहन को जब्त कर लिया जाएगा। जिले के समूह स्कूलों के मुखिया, प्रबंधकों और स्कूलों कालेजों में पढ़ रहे बच्चों के मां-बाप से अपील की है, कि वह स्कूलों या अन्य शिक्षा संस्थाओं में बच्चों को ले जाने वाले स्कूली वाहनों, ऑटो, रिक्शा आदि को निजी तौर चेक करे।

ट्रांसपोर्ट विभाग की तरफ जिले के विभिन्न हिस्सों में 53 स्कूल वैनों के चालान काटे गए, जबकि 14 वाहनों को जब्त किया गया। एडीसी गुरजीत सिंह द्वारा 17 गाड़ियों के चलान काटे गए जबकि 4 को बंद किया गया।

कोटकपूरा में एसडीएम परमदीप सिह बराड द्वारा भी की गई, कोटकपूरा में 24 स्कूल वैनों चालान काटे गए।

ट्रैफिक इंचार्ज अमृतपाल सिंह ने कहा की जिले मे 25 गाड़ियों के चालान किए गए।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!