फरीदकोट [प्रदीप कुमार सिंह]। ब्रैमटन वेस्ट कनाड़ा से एमपी प्रत्याशी रही नवजोत कौर तीसरे स्थान पर रही। नवजोत कौर की हार से गांव के लोग निराश हैंं। ग्रामीणों को आशा थी कि वह चुनाव में जरूर विजयी होगी। कनाड़ा में हुए चुनाव व मतगणना को लेकर ग्रामीणों में उत्साह रहा। बुधवार को गांव ही नहीं आसपास के गांवों के लोग एक-दूसरे से मतगणना में नवजोत कौर की स्थित के बारे में पूछते रहे, परंतु दिन में डेढ़ बजे जब कनाड़ा से खबर आई कि नवजोत कौर हार गई तो लाेग निराश हो गए।

फरीदकोट जिले की बाजाखाना कस्बे के नजदीकी गांव मल्ला के पूर्व सरपंच गुरदेव सिंह बराड़ की पौत्री नवजीत कौर पर गांव के लोगाें को गर्व है कि उसने चुनाव में उतरकर गांव का मान बढ़ाया है। 32 वर्षीय पेशे से नर्स नवजीत कौर को एनडीपी के प्रधान जगमीत सिंह ने ब्रैमटन वेस्ट एमपी प्रत्याशी के रूप में चुनाव में उतारा था।

नवजोत कौर के चाचा कौर सिंह ने बताया कि उनकी भतीजी को एनडीपी के प्रधान जगमीत सिंह ने प्रत्याशी बनाया था, जिसका चुनाव प्रचार उन्होंने ब्रैमटन वेस्ट में अपने पंजाबी भाइयों के बीच करते हुए सभी से नवजोत का सहयोग करने की अपील की थी। उन्होंने बताया कि उनके भाई दर्शन सिंह बराड़ व भाभी परमजीत सिंह बराड़ की बेटी नवजीत कौर है, जिसका जन्म कनाड़ा में हुआ है और वह गांव में करीब आठ साल पहले आई हुई थी। उन्होंने बताया कि उसका ससुराल चंडीगढ़ में है और वह दो बच्चों की मां है। उनके भाई दर्शन सिंह 1982 में कनाड़ा गए थे, वह वहां पर टैक्सी चलाने का काम करते हैंं। 

गांव के पूर्व सरपंच गुरबख्श सिंह, नंबरदार जसविंदर सिंह, पंच हरी शर्मा, राजिंदर सिंह खालसा, सरपंच भूपिंदर सिंह मल्ला, पंडित मनोहर लाल शर्मा ने नवजीत कौर ने कहा कि उन्हें नवजोत काैर पर मान है, उसने कनाड़ा की धरती पर गांव का नाम रोशन किया है। हालांकि यदि वह आज चुनाव जीत गई होती तो वह लोग गांव में जश्न मनाते। उक्त लोगों ने पार्टी प्रधान जगमीत सिंह का भी धन्यवाद किया, जिन्होंंने अपनी पार्टी से नवजोत कौर को चुनाव में उतारा था।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

Posted By: Kamlesh Bhatt

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!