चंडीगढ़, जेएनएन। चंडीगढ़ रेलवे स्टेशन को व‌र्ल्ड क्लास स्टेशन के तौर पर डेवलप करने का काम जनवरी 2020 में शुरू हो जाएगा। जर्मनी के हीडलबर्ग रेलवे स्टेशन की तर्ज पर चंडीगढ़ रेलवे स्टेशन को डेवलप किया जाएगा। इस पर 135 करोड़ रुपये खर्च होंगे। इस प्रोजेक्ट के लिए रेलवे करीब दो सौ करोड़ रुपये तक का लोन लेगा। प्रोजेक्ट के कई काम पीपीपी मोड के तहत कराए जाएंगे। कार्य पूरा करने में करीब दो साल का समय लगेगा। व‌र्ल्ड क्लास रेलवे स्टेशन बनाने का काम लुधियाना के दीपक बिल्डर्स को सौंपा गया है।

इस बीच बुधवार को नार्दन रेलवे के जीएम टीपी सिंह के नेतृत्व में अंबाला रेलवे मंडल, हरियाणा सरकार और चंडीगढ़ रेलवे स्टेशन के वरिष्ठ अधिकारियों ने रेलवे स्टेशन का दौरा किया। उन्होंने बताया कि जनवरी 2020 से चंडीगढ़ रेलवे स्टेशन पर चार मंजिला इमारत का निर्माण कार्य शुरू हो जाएगा।

60 मीटर चौड़ी और 40 मीटर लंबी होगी इमारत

चंडीगढ़ रेलवे स्टेशन के डायरेक्टर बलबीर सिंह ने बताया कि रेलवे स्टेशन के मेन एंट्रेस के सामने वाले एरिया में इस चार मंजिला इमारत का निर्माण होगा। यह इमारत 60 मीटर चौड़ी और 40 मीटर लंबी होगी। स्टेशन के सामने वाले एरिया में चार मंजिला इस इमारत का निर्माण होगा। इस चार मंजिला इमारत एक छोर रेलवे स्टेशन के सामने रखे गए स्टीम इंजन और दूसरा छोर रेलवे स्टेशन के एंट्रेंस पर बने एस्केलेटर की ओर होगा। 135 करोड़ रुपये में बनने वाली इस चार मंजिला इमारत के लिए चंडीगढ़ वीआइपी गेट से रेलवे स्टेशन के प्रवेश द्वार तक पहले स्टेशन को तोड़ा जाएगा।

स्टेशन पर यह होगी सुविधाएं

स्टेशन पर आने वाले पैसेंजर्स के लिए अलग से टेंपरेरी एंट्री प्वाइंट बनाया जाएगा। इमारत में फ‌र्स्ट और सेकेंड फ्लोर बनेगा। इसमें यात्रियों से जुड़ी सुविधाएं उपलब्ध होंगी। इनमें वेटिंग रूम, लाउंज, खाने-पीने की सुविधा शामिल हैं। इसके अलावा पंचकूला और चंडीगढ़ साइड को कंकोर्स ब्रिज से जोड़ा जाएगा। यह करीब 36 मीटर चौड़ा होगा। कंकोर्स पर वेटिंग के दौरान लोग मोबाइल चार्ज भी कर सकेंगे। इसके अलावा यात्रियों के बैठने की भी सुविधा होगी।

दो सब-वे और रेलवे का अलग से एडमिनिस्ट्रेटिव ब्लॉक बनेगा

नार्दन रेलवे जीएम टीपी सिंह ने बताया कि रेलवे स्टेशन पर इस प्रोजेक्ट के तहत दो सब-वे बनेंगे। जोकि चंडीगढ़ को पंचकूला साइड रेलवे स्टेशन की एंट्रेंस प्वाइंट को जोड़ेंगे। इसके अलावा इस चार मंजिला इमारत में चंडीगढ़ रेलवे स्टेशन का एडमिनिस्ट्रेटिव ब्लॉक बनेगा। जहां रेलवे का कागजी कार्रवाई का काम होगा। वहीं नई बिल्डिंग में आरपीएफ का ऑपरेशन सेल, सीसीटीवी मॉनिटरिंग रूम, हथियार रखने के लिए स्टोर रूम और ऑफिस के रूटीन काम के लिए अलग से एक मल्टीपर्पज हॉल होगा। इसके अलावा न्यू ऑफिस बिल्डिंग में रिकॉर्ड रूम और महिलाओं व पुरुष के लिए अलग से लॉकअप रूम भी बनाया जाएगा।

चंडीगढ़ साइड से स्टेशन का मेन एंट्रेंस

दो साल के लिए होगा बंद स्टेशन डायरेक्टर ने बताया कि चार मंजिला इमारत के चलते चंडीगढ़ साइड से रेलवे स्टेशन का मेन एंट्रेंस कुछ समय के लिए बंद करना पड़ेगा। पैसेंजर्स की एंट्री के लिए रेलवे की ओर से विकल्प तलाश किया जा रहा है, ताकि चंडीगढ़ की तरफ से रेलवे स्टेशन पर आने वाले पैसेंजर्स की सहूलियत के लिए थोड़े समय के लिए दूसरा एंट्री प्वाइंट तैयार किया जा सके। इसके चलते रेलवे स्टेशन का मेन एंट्रेंस कवर होगा। ऑटो स्टैंड और सामने का एरिया बिल्डिंग निर्माण के दौरान कवर किया जाएगा।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!