चंडीगढ़, जेएनएन। यूटीसीए को बीसीसीआइ से मान्यता मिलने के बाद ही यह तय हो गया था कि अब शहर का क्रिकेट इंफ्रास्ट्रक्चर और बेहतर होगा।जस्टिस लोढ़ा समिति की सिफारिशों का अनुपालन करने वाली बीसीसीआइ की राज्य ईकाइयों को 23 अक्टूबर को होने वाली वार्षिक आम बैठक के बाद सालाना अनुदान मिलना शुरू हो जाएगा। गौरतलब है कि बीसीसीआइ के पूर्ण कालिक सदस्य को 35 करोड़ रुपये का सालाना अनुदान मिलता है। बीसीसीआइ सूत्रों की मानें तो एजीएम में कई वित्तीय वर्षों के लिए वार्षिक लेखा-जोखा पारित होगा। एक बार जब ऐसा हो जाएगा तब अनुपालन करने वाले राज्यों को अनुदान मिलने का रास्ता साफ हो जाएगा।

यूटीसीए के पास नहीं है अभी अपना इंफ्रास्ट्रक्चर

शहर ने देश को कपिल देव, युवराज सिंह, चेतन शर्मा, अशोक मल्होत्रा, योगराज सिंह, दिनेश मोंगिया और वीआरवी सिंह जैसे क्रिकेट के धुरंधर दिए हैं, इन सभी क्रिकेटर्स ने इसी शहर से क्रिकेट के गुर सीख कर पंजाब-हरियाणा की तरफ से खेलते हुए इंडियन टीम में जगह बनाई थी। अब बीसीसीआइ से यूटीसीए को मान्यता मिलने के बाद शहर के युवा चंडीगढ़ की तरफ से फ‌र्स्ट क्लास क्रिकेट खेल रहे हैं। शहर में अभी यूटीसीए का कोई क्रिकेट इंफ्रास्ट्रक्चर नहीं है। यूटीसीए स्पो‌र्ट्स डिपार्टमेंट के इंफ्रास्ट्रक्चर का इस्तेमाल कर रहा है, ऐसे में उम्मीद है कि इस राशि के आने के बाद यूटीसीए अपना क्रिकेट इंफ्रास्ट्रक्चर तैयार करेगा।

क्रिकेट स्टेडियम -16 को अपग्रेड करना चाहता है यूटीसीए

बीसीसीआइ से मान्यता मिलने के बाद यूटीसीए ने सेक्टर-16 के क्रिकेट स्टेडियम को अपग्रेड करने की इच्छा जाहिर की थी। इस स्टेडियम को लीज पर लेने की कवायद भी यूटीसीए ने शुरू कर दी है। हाल ही में यूटीसीए प्रेसिडेंट संजय टंडन, वाइस प्रेसिडेंट विवेक अत्रे, यूटीसीए जनरल सेक्रेटरी सुभाष महाजन और ज्वाइंट सेक्रेटरी अलोक कृष्ण ने यूटी सचिवालय में प्रशासक के सलाहकार मनोज परीदा से मुलाकात कर उन्हें यूटीसीए की भविष्य योजनाओं के बारे में बताया। इसी दौरान टंडन ने प्रशासक को बताया था कि वह आइपीएल के अगले सीजन और इंटरनेशनल मैच के लिए सेक्टर-16 के क्रिकेट स्टेडियम को अपग्रेड करना चाहते हैं।

स्पो‌र्ट्स डिपार्टमेंट यूटीसीए का करेगा सहयोग

यूटी स्पो‌र्ट्स डिपार्टमेंट के डायरेक्टर तेजदीप सिंह सैनी ने बताया कि अभी हमें क्रिकेट स्टेडियम -16 को लीज पर लेने के लिए यूटीसीए की तरफ से कोई प्रोपोजल नहीं मिला है। यूटीसीए अपने टूर्नामेंट शेड्यूल की बुकिंग करवा देता है। इसके अलावा यूटीसीए स्टेडियम को इस्तेमाल कर रहा है। सैनी ने बताया कि अगर यूटीसीए खिलाड़ियों के लिए कुछ करना चाहता है तो हम उसका पूरा सहयोग करेंगे। हम तैयार करेंगे बेहतर स्पो‌र्ट्स इंफ्रास्ट्रक्चर यूटीसीए के प्रेसिडेंट संजय टंडन ने कहा कि यूटीसीए को बीसीसीआइ से मान्यता मिलने के बाद शहर की युवा खिलाड़ियों को बेहतर मौके मिल रहे हैं। हम शहर में बेहतर स्पो‌र्ट्स इंफ्रास्ट्रक्चर तैयार करेंगे, कैंप लगाएंगे और खिलाड़ियों को बेहतर ढंग से प्रोफेशनल कोचिंग देंगे।

 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

 

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!