चंडीगढ़, जेएनएन। पीजीआइ में कोरोना वायरस के हाल ही में भर्ती किए गए पांच संदिध मरीजों की रिपोर्ट नेगेटिव आई है। अभी तक पीजीआइ में कोरोना वायरस के 15 संदिग्ध मरीजों को इलाज के लिए भर्ती किया जा चुका है। पीजीआइ के डॉक्टरों की मानें तो यह आंकड़ें आने वाले समय में बढ़ेंगे। क्योंकि पीजीआइ में अकसर पंजाब, हरियाणा और हिमाचल से भी कई कोराेना वायरस के संदिग्ध इलाज के लिए आ रहे हैं। पीजीआइ डॉक्टरों ने बताया कि ऐसे में प्रशासन की ओर से यह फैसला लिया गया है कि जरूरत पड़ने पर आइसोलेशन वार्ड की संख्या बढ़ाई जाएगी।

पीजीआइ 250 बेड के सराय को बनाया जाएगा स्पेशल वार्ड

हाल ही में प्रशासक वीपी सिंह बदनौर ने प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक की थी। जिसमें पीजीआइ प्रशासन भी मौजूद था। काेरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए चंडीगढ़ प्रशासन आैर पीजीआइ प्रशासन ने यह फैसला लिया  है कि पीजीआइ में मरीजों के तीमारदारों व परिजनों के ठहरने के लिए बनाए गए 250 बेड के  सराय को जरूरत पड़ने पर 250 बेड का स्पेशल वार्ड बनाया जाएगा। जहां कोरोना वायरस के संदिग्ध मरीजों को जरूरत पड़ने पर भर्ती कर इलाज किया जाएगा।

कोरोना वायरस को लेकर जारी किए हेल्पलाइन नंबर

कोरोना वायरस को लेकर यूटी हेल्थ डिपार्टमेंट की ओर से हेल्पलाइन नंबर जारी किए गए हैं। अगर किसी व्यक्ति को लगता है कि उसमें कोरोना वायरस के लक्षण हैं, तो वे इस हेल्पलाइन नंबर पर संपर्क कर जानकारी दे सकता है। ताकि उसे सही समय पर इलाज दिया जा सके। यूटी हेल्थ डिपार्टमेंट की ओर से जारी हेल्पलाइन नंबर- 9779558282, चंडीगढ़ कंट्रोल रूम नंबर-0172-2752038 और नेशनल हेल्पलाइन नंबर-011-23978046 जारी किया है। इन नंबर पर कॉल कर कोरोना वायरस से संबंधित जानकारी या किसी भी संदिग्ध मरीज की भी जानकारी दी जा सकती है।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

Posted By: Satpaul

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!