चंडीगढ़, जेएनएन। चंडीगढ़ में रविवार को हो रहे नेशनल डिफेंस एकेडमी (एनडीए) एग्जाम से जहां स्टूडेंट्स खुश दिखे, लेकिन शहर में लगे वीकेंड लॉकडाउन की वजह से परेशान हुए। चंडीगढ़ में एनडीए एग्जाम के लिए 45 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं। इसमें करीब 15 हजार स्टूेंड्स परीक्षा देने पहुंचे हैं। एग्जाम के लिए पहुंचे स्टूडेंट्स चंडीगढ़ के अलावा पंजाब, हरियाणा और हिमाचल प्रदेश के विभिन्न जिलों आए हुए हैं। परीक्षा दो भागों में आयोजित की गई है। पहले चरण में 10 से 12.30 बजे तक परीक्षा हुई। वहीं, चरण में 2.30 बजे से 4.30 बजे तक आयोजित होगी।

पहले चरण की परीक्षा देने के बाद स्टूडेंट्स ने बताया कि सुबह एग्जाम सेंटर तक पहुंचने में किसी प्रकार की परेशानी नहीं हुई, लेकिन लॉकडाउन के चलते न तो कुछ खाने-पीने का सामान नहीं मिला। जिसकी वजह से उन्हें परेशान होना पड़ा है। 

पहले गेट पर रोका बाद में खोले गेट

चंडीगढ़ में वीकेंड लॉकडाउन के चलते कोरोना नियमों का पालन करने के लिए शहर के विभिन्न सेंटरों ने पहले चरण की परीक्षा खत्म होने के बाद स्टूडेंट्स को गेट के अंदर ही रोक लिया। ऐसे में स्टूडेंट्स के साथ आए हुए अभिभावकों को बाहर से खाना और पानी देने का अनुरोध किया लेकिन बाद में जब कुछ स्टूडेंट्स ने कहा कि वह अकेले आए हैं और उन्हें बाहर से कोई खाना लाने वाला नहीं है, तो स्टूडेंट्स को बाहर जाने की अनुमति दी गई।

चंडीगढ़ के सेक्टर 18 स्थित सरकारी स्कूल में बनाए गए परीक्षा केंद्र में पंजाब के बठिंडा से एग्जाम देने पहुंचे नितिन ने बताया कि एग्जाम आसान था। प्रश्न हल करने में उन्हें कोई परेशानी नहीं हुई, लेकिन खाने के लिए घर से कुछ नहीं लाया था और यहां पर कुछ भी नहीं मिल रहा जिससे परेशान होना पड़ रहा है। क्योंकि यहां वीकेंड लॉकडाउन की वजह से सभी दुकानें पूरी तरह से बंद हैं और मैं अकेला ही आया हूं।

चंडीगढ़ के सेक्टर 18 स्थित सरकारी स्कूल में बनाए गए परीक्षा केंद्र में हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिले से आए अर्पित ने बताया कि वह एग्जाम देने के लिए पहली बार चंडीगढ़ आया है। एग्जाम का सारा स्लेबस बारहवीं कक्षा के आधार पर आया हुआ था जिसके चलते कोई परेशानी नहीं आई। पेपर समय पर पूरा हुआ।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप