चंडीगढ, जेएनएन/एएनआइ। पंजाब में कोरोना वायरस के बढ़ते खतरे से हड़कंप की हालत है। राज्‍य में COVID-19 के सात नए संदिग्‍ध मामले मिले हैं। Corona virus के मद्देनजर पंजाब और चंडीगढ़ में स्‍कूल, कॉलेज और विश्‍वविद्यालयों के बाद तकनीकी शिक्षण संस्‍थान और आइटीआइ भी बंद कर दिए  हैं। ये 31 मार्च तक बंद रहेंगे। इसके साथ ही पंजाब सरकार ने सभी सिनेमा हॉल, जिम और स्विमिंग पूल भी 31 मार्च तक बंद रखने के आदेश दिए हैं। राज्य में इस अवधि के दौरान कोई भी खेल और सांस्कृतिक कार्यक्रम भी नहीं होंगे। इसके साथ ही चंडीगढ़ का पंजाब विश्‍वविद्यालय (PU) को भी बंद कर दिया गया है। बताया जाता है कि पीयू के हॉस्‍टल भी खाली कराए जाने का भी फैसला किया गया है।

अमृतसर में पांच और होशियारपुर व फरीदकोट में एक-एक संदिग्‍ध मरीज मिले, सभी विदेश से लौटे हैं

पंजाब में Covid-19 के सात नए संदिग्‍ध मामले सामने आए हैं। अमृतसर एयरपोर्ट पर शनिवार को पहुंचे पांच लोगों को अस्पताल में भर्ती किया गया और उनके सैंपल लिए गए। इनमें दो पेरिस, दो जर्मनी और एक दुबई से लौटा है। इनमें एक महिला है। इसके अलावा अमेरिका से लौटे होशियारपुर व फरीदकोट के एक-एक व्यक्ति को अस्पताल में भर्ती किया गया है।

तकनीकी शिक्षण संस्थान बंद, सेमिनार, बैठकें व खेल समागम स्थगित

पंजाब सरकार ने शनिवार को आदेश जारी कर राज्‍य में तकनीकी शिक्षण संस्‍थानों, आइटीआइ आदि बंद करने का आदेश दिया। सरकार ने शुक्रवार को घोषणा की थी कि राज्‍य में स्‍कूल, कॉलेज और विश्‍वविद्यालय 31 मार्च तक बंद रहेंगे। शनिवार को आदेश जारी कर टीचिंग और नॉन टीचिंग स्टाफ से भी संस्थानों में नहीं आने के लिए कहा गया है। लेकिन, इस‍के साथ ही कहा गया है कि टीचर और नॉन टीचिंग स्टाफ अपना स्टेशन नहीं छोड़ेंगे ताकि अगर जरूरत पड़े तो उन्हें तुरंत बुलाया जा सके।

प्रदर्शनी, खेल, सांसकृतिक व धार्मिक कार्यक्रमों पर भी रोक

पंजाब के स्वास्थ्य मंत्री बलबीर सिंह सिद्धू ने शनिवार शाम कहा कि कोराेना वायरस (Covid-19)  के मद्देनजर एहतियात के तौर पर राज्‍य में सभी सिनेमा हॉल, जिम, स्विमिंग पूल बंद रहेंगे। राज्य में इस अवधि के दौरान कोई भी खेल और सांस्कृतिक कार्यक्रम नहीं होंगे। इसके साथ ही प्रदर्शनी और भीड़ एकत्र करने वाले सभी तरह के कार्यक्रमाें पर भी रोक लगा दी गई है। यह आदेश 14 मार्च आधी रात से प्रभावी होंगे। ये पाबंदियां अगले आदेश तक जारी रहेंगी। सिद्धू ने बताया कि फिलहाल शॅपिंग मॉल्‍स के लिए इस तरह की कोई पाबंदी लगाने पर विचार नहीं किया गया है।

कैबिनेट मंत्री चरनजीत सिंह चन्नी ने बताया कि सभी सरकारी व प्राइवेट तकनीकी शैक्षणिक संस्थान 31 मार्च तक बंद रखने के आदेश दिए गए हैं। किसी भी तरह के प्रोग्राम सेमिनार, बैठकें व खेल समागम स्थगित कर दिए गए हैं।

पंजाब के मुख्य सचिव करन अवतार सिंह ने कैबिनेट सचिव राजीव गौबा को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये कोविड-19 पर राज्य की स्थिति से अवगत करवाया। उन्होंने बताया कि कोरोना वायरस फैलने के शुरुआती दौर से ही पंजाब ने एहतियातन कदम उठाने शुरू कर दिए थे। उन्होंने नेशनल हेल्थ मिशन के तहत और फंडों की मांग की। इससे पहले विभिन्न विभागों के अधिकारियों की मीटिंग में उन्होंने जरूरी हिदायतें जारी की। लोगों से अफवाहों से बचने की अपील की।

---

हीरो इंडियन फुटबॉल लीग के सभी मुकाबले 31 तक स्थगित

हीरो इंडियन फुटबॉल लीग के तहत रविवार को पंजाब एफसी और आइजोल के बीच गुरु नानक स्टेडियम में मुकाबला खेला जाना था, लेकिन इसे स्थगित कर दिया गया। अब 31 मार्च तक मैच नहीं होंगे। लीग में लगभग 28 मुकाबले खेले जाने हैं।

---

श्री हरिमंदिर साहिब के गोल्डन प्लाजा में शो बंद

अमृतसर में श्री हरिमंदिर साहिब परिसर में स्थित गोल्डन प्लाजा के शो बंद कर दिए गए हैं। पर्यटन विभाग की देख-रेख में चल रहे गोल्डन प्लाजा में शो के जरिए सिख इतिहास से जुड़ी घटनाओं को दिखाया जाता है।

दूसरी ओर, अटारी बाघा बार्डर से व्‍यापार और ट्रकों की आवाजाही पर रोक लगा दी गई है। इसके साथ ही गैर भारतीयों के अटारी बॉर्डर से होकर भारत में प्रवेश पर भी पाबंदी लगा दी गई है। दूसरी ओर, पंजाब सरकार ने कोरोनो के खतरे के मद्देनजर इसके संदिग्‍ध मरीजों को अलग रखने के लिए अस्‍पतालों में 2200 बेड तैयार किए गए हैं। इसके अलावा उनके लिए सरकारी और प्राइवेट अस्पतालों में वेंटीलेटर के विशेष प्रबंध किए गए हैं।

पंजाब सरकार व चंडीगढ़ प्रशासन ने सभी सरकारी व प्राइवेट स्कूलों, कॉलेजों व विश्वविद्यालयों को 31 मार्च तक बंद करने के आदेश दिए गए हैं। आज से सरकारी और निजी स्‍कूल, कॉलेज और विश्‍वविद्यालय बंद कर दिए गए हैं। इस दौरान यदि कोई परीक्षा हो रही है तो वह जारी रहेगी।

विदेश से लौटे यात्रियों के लापता होने से सरकार का इन्कार

विदेश से लौटे यात्रियों में से 335 के लापता होने के सवाल पर पंजास्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि केंद्र सरकार की ओर से उपलब्ध करवाई गई 6850 यात्रियों की सूची में से 6058 से स्वास्थ्य विभाग ने संपर्क कर लिया है। इनमें से 3754 यात्री 14 दिन की निगरानी की अवधि को पार कर चुके हैं। उन्होंने किसी भी यात्री से लापता होने से इन्कार किया और कहा कि राज्य में कोई भी संदिग्ध फिलहाल गायब नहीं है। वहीं, यह भी बताया जा रहा है कि जिन 335 लोगों के लापता होने की बात की जा रही है, उनका नाम केंद्र की सूची में दो बार दर्ज है।

उन्होंने हाल ही में एक से ज्यादा बार विदेश यात्रा की है। वहीं, गुरदासपुर में 17 लोगों के लापता होने की सूचना है। सिविल सर्जन डॉ. किशन चंद ने बताया कि कुछ दिनों में विदेश से 293 लोगलौटे हैं। 17 लोगों की जानकारी नहीं मिल पाई है। डीसी मोहम्मद इशफाक ने कहा कि ङ्क्षचता वाली बात नहीं है, क्योंकि इन्हें विदेश से लौटे 14 दिन से अधिक समय हो चुका है।

स्वास्थ्य विभाग ने बनाई तीन श्रेणियां

-ए श्रेणी: स्क्रीनिंंग के दौरान खांसी-जुकाम से पीडि़त मरीज को 14 दिन तक आइसोलेशन वार्ड में रखा जाएगा।

-बी श्रेणी: साठ वर्ष के हर पीडि़त व्यक्ति को आइसोलेशन में रखा जाएगा।

-सी श्रेणी: साठ से कम आयु वर्ग के लोगों को लक्षण न होने पर घर भेजा जाएगा।

हेल्पलाइन पर करें कॉल

सरकार ने कुछ दिन पहले हेल्पलाइन-104 भी जारी की थी। इसके अलावा नेशनल कॉल सेंटर 011-23978046 और स्टेट कंट्रोल रूम नंबर 88720-90029 व 0172-2920074 भी स्थापित किए गए हैं।

-----------------

2200 बेड, अमृतसर व पटियाला में 20-20 वेंटीलेटर तैयार

कोरोना वायरस की स्थिति पर नजर रखने के लिए बनाए गए मंत्री समूह ने बैठक कर हालात की समीक्षा की है। बैठक में बताया गया कि कोरोना वायरस (COVID -19) के संदिग्‍ध मरीजों को अलग रखने के लिए राज्य के अस्‍पतालाें में अलग से 2200 बेड तैयार किए गए हैं। उनके लिए विशेष वेंटीलेटर की भी व्‍यवस्‍था की गई है। प्राइवेट अस्पतालों में 250 वेंटीलेटर हैं। अमृतसर व पटियाला के सरकारी मेडिकल कॉलेजों में 20-20 वेंटीलेटर तैयार रखे गए हैं।

----------

अफगानिस्तान से कारोबार पर भारत ने लगाया प्रतिबंध

इसके साथ ही सरकार ने अटारी वाघा बार्डर पर व्‍यापार पूरी तरह बंद क‍र दिया है। पाकिस्तान के रास्ते अफगानिस्तान से होने वाला कारोबार बंद कर दिया है। इससे अफगानिस्तान से ड्राइफ्रूट और मसालों के ट्रक भारत नहीं आ सकेंगे। इस रास्ते ड्राइफ्रूट कारोबारी रोजाना करीब चार करोड़ रुपये का कारोबार करते थे।

कोरोना वायरस के खतरे के मद्देनजर केंद्र सरकार ने गैर भारतीयों की अटारी सीमा के रास्ते भारत में एंट्री भी बंद कर दी है। यह रोक भारतीय नागरिकों पर नहीं होगी, लेकिन उन्हें पाकिस्तान से लौटने पर 14 दिन आइसोलेशन वार्ड में रखा जाएगा। भारत आए पाक नागरिक लौट सकते हैं, लेकिन प्रवेश सिर्फ भारतीयों को ही मिलेगा।

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें


यह भी पढ़ें: गुरदासपुर के पास पुल से नीचे गिरी टूरिस्‍ट बस, एक की मौत व 18 यात्री घायल, कई के हाथ-पैर कटे

Posted By: Sunil Kumar Jha

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!