जागरण संवाददाता, चंडीगढ़ : शहीदों की चिताओं पर लगेंगे हर बरस मेले, वतन पर मरने वालों का यही बाकी निशां होगा। नेशनल फ्लैग डे पर सेक्टर-3 स्थित बोगनविला पार्क में बने वार मेमोरियल पर शनिवार को जल, थल और वायुसेना के पूर्व अध्यक्षों ने अपनी श्रद्धाजंलि अर्पित की। रिटायर्ड जनरल वीपी मलिक के साथ रिटायर्ड एयर चीफ मार्शल बीएस धनोआ, रिटायर्ड एडमिरल सुनील लांबा के साथ पंजाब सीएम के सीनियर एडवाइजर व रिटायर्ड लेफ्टिनेंट जनरल टीएस शेरगिल के साथ एनसीसी कैडेट्स भी विशेष तौर पर मौजूद रहे। कार्यक्रम की शुरुआत में पंजाब पुलिस की एक टुकड़ी ने पाइपर बैंड की धुन पर गार्ड ऑफ ऑनर प्रस्तुत किया। नेशनल फ्लैग डे के मौके पर शहीदों को श्रद्धांजलि देने के लिए पंजाब और हरियाणा निदेशालय के एनसीसी कैडेट्स, स्थानीय स्कूलों के छात्र और बड़ी संख्या में लोग वार मेमोरियल पर मौजूद थे। रिटायर्ड जनरल वीपी मलिक ने कहा कि जिन लोगों ने देश की सुरक्षा के लिए अपने प्राणों की आहुति दी है, उनके बलिदानों को हमें हमेशा याद रखना चाहिए। हम ऐसा करेंगे तभी आने वाली पीढि़यां इस आजादी की कीमत को पहचान सकेंगी। लिटरेचर फेस्ट से पहले माहौल बनाने का प्रयास

मिलिट्री लिटरेचर फेस्टिवल से पहले माहौल बनाने के मकसद से शहर में कई तरह के आयोजन किए जा रहे हैं, इसी कड़ी में शनिवार को सेक्टर-3 चंडीगढ़ क्लब के सामने से ब्रेव हार्ट राइड आयोजित की थी। इस राइड को जनरल वीपी मलिक (रिटायर्ड) एयर चीफ मार्शल बीएस धनोआ (रिटायर्ड) एडमिरल सुनील लांबा (रिटायर्ड) और पूर्व लेफ्टिनेंट जनरल टीएस शेरगिल ने झंडी दिखाकर रवाना किया। इस ब्रेव हार्ट राइड में सेना समेत बाइकिग के शौकीन लोगों ने शिकरत की और युवाओं को नशे की जगह सेना को ज्वाइन करने के लिए प्रेरित किया। यह राइड चंडीगढ़ क्लब से शुरू होकर चंडीमंदिर छावनी तक गई। युवाओं को दिया मिलिट्री लिटरेचर फेस्टिवल में आने का न्योता

टीएस शेरगिल ने युवाओं को प्रेरित करते हुए कहा कि इस कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य युवाओं में देशभक्ति की भावना पैदा करना और उन्हें पंजाब के समृद्ध सैन्य इतिहास से परिचित कराना है। गौरतलब है कि इस बार मिलिट्री लिटरेचर फेस्टिवल 13 से 15 दिसंबर तक होगा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!