जागरण संवाददाता, चंडीगढ़। इस साल हुए रोज फेस्टिवल में नगर निगम ने घोषणा की थी जो भी नेहबरहूड पार्क प्रतियोगिता में पहले नंबर पर रहेगा उसे बीस हजार रुपये का नकद पुरस्कार दिया जाएगा, लेकिन नंबर एक पर रही सेक्टर-40 ए की रेजिडेंट्स वेलफेयर एसोसिएशन (एमआइजी) को इसकी आधी राशि दस हजार रुपये ही मिली है। इस पर सोमवार को एसोसिएशन का प्रतिनिधिमंडल कमिश्नर केके यादव को मिला। एसोसिएशन ने इस संबंध में ज्ञापन भी सौंपा है। एसोसिएशन के सदस्य वीएन शर्मा का कहना है कि मेयर को भी इसका ज्ञापन सौंपा गया है।

वीएन शर्मा का कहना है कि उनकी एसोसिएशन के साथ नगर निगम ने धोखा किया है। उन्होंने कहा कि कमिश्नर ने भी इस मामले में हैरानी जताई है। कमिश्नर ने एसोसिएशन को कहा है कि इस मामले की जांच करवाई जाएगी। मालूम हो कि रोज फेस्टिवल में पहले स्थान पर रही एसोसिएशन को बीस, दूसरे नंबर पर रही एसोसिएशन को 15 और तीसरे नंबर पर रही एसोसिएशन को दस हजार रुपये देने की घोषणा की गई थी। इस प्रतिनिध मंडल में अध्यक्ष हरबंस सिंह, महासचिव हरप्रीत सिंह, चरणजीत शर्मा, बीएस रंधावा, एसके खेड़ा भी उपस्थित थे।

यह प्रतियोगित रोज फेस्टिवल में बागवानी विभाग की ओर से करवाई जाती है। बागवानी विभाग के कार्यकारी अभियंता कृष्ण पाल का कहना है कि इस प्रतियोगिता में सोसाइटियों की एसोसिएशन भी भाग लेती हैं। सोसाइटियों की कैटेगरी में भी एक एसोसिएशन ने पहला स्थान हासिल किया था। ऐसे में बीस हजार रुपये के नकद पुरस्कार को दो अलग-अलग एसोसिएशन को आधा आधा करके बांट दिया गया था।

 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Vikas Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!