चंडीगढ़, जेएनएन। कोरोना महामारी के बावजूद हर भाई की कलाई पर राखी सज सके, इसके लिए रविवार को शहर के सभी पोस्ट ऑफिस खुले रहे और उसमें काम करने वाले कर्मचारियों ने डाक छांटने से लेकर बांटने तक का काम किया। छुट्टी होने के वावजूद भी काम करने का मकसद राखी को सोमवार सुबह सात बजे से पहले हर भाई तक पहुंचाना है। शहर के पोस्ट ऑफिस कर्मचारी साइकिल और टू-व्हीलर पर राखियों के बोरे ढोते हुए दिखे। इसके अलावा कर्मचारी बड़े-बड़े करेट में राखी और गिफ्ट ढोते हुए देखे गए, क्योंकि कई बहनों ने राखी के साथ गिफ्ट भी भाई को भेजा था।

कोरोना के चलते पोस्ट ऑफिस का बढ़ा काम

कोरोना वायरस महामारी के चलते इस बार बहनें अपने भाई को राखी बांधने के लिए घर नहीं जा सकी, जिस कारण ज्यादातर बहनों ने पोस्ट ऑफिस का सहारा लिया। इसके अलावा राखी हर भाई तक समय पर पहुंचे इसके लिए विशेष प्रबंध भी किए गए थे। शहर में राखी भेजने के लिए स्पेशल बॉक्स लगाए गए थे, जिसमें राखी डालने के बाद उसी दिन राखी दूसरे पोस्ट ऑफिस के लिए भेजी गई है। इसके अलावा जो भी राखियां शहर में आई हैं, वह रोजाना छांटकर पांच बजे के बाद भी बांटने का भी काम किया गया है। एक अगस्त को छुट्टी होने के कारण राखियों की संख्या पाेस्ट ऑफिस में ज्यादा थी। सूत्रों की माने तों करीब 50 हजार के करीब राखी रविवार को बांटी जा रही है।

 

पूरे देश के रविवार को डाक बांटने के निर्देश जारी हुए थे। उसी का पालन शहर के पोस्ट ऑफिस कर रहे है। डाक बांटने का काम सुबह आठ बजे से शुरू हुआ है और पूरी कोशिश है कि पूरी डाक बांटकर ही घर जाएंगे। उन्होंने कहा कि शहर के पोस्ट ऑफिस कर्मचारियों का प्रयास है कि राखी के साथ जो भी गिफ्ट भाई के लिए बहनों ने भेजे है वह उन्हें समय पर मिल सके।

मोहन शर्मा, पोस्ट मास्टर पोस्ट ऑफिस सेक्टर-17

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Vikas_Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!