Move to Jagran APP

Punjab News: लापता बच्चों की शिकायत इस नंबर पर करें WhatsApp, भगवंत मान ने AI चैटबॉट हेल्पलाइन की शुरू

पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने एक आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (एआई) आधारित चैटबॉट हेल्पलाइन सेवा शुरू की है। यह चैटबॉट हेल्पलाइन सेवा लापता बच्चों का पता लगाने के उद्देश्य से बनाई गई है। इस हेल्पलाईन सेवा में व्हाट्सएप भी एकीकृत किया गया है।

By Jagran NewsEdited By: Nidhi VinodiyaPublished: Tue, 28 Mar 2023 07:08 PM (IST)Updated: Tue, 28 Mar 2023 07:08 PM (IST)
लापता बच्चों की शिकायत इस नंबर पर करें WhatsApp, भगवंत मान ने AI चैटबॉट हेल्पलाइन की शुरू

चंडीगढ़, एएनआई । पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने एक आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (एआई) आधारित चैटबॉट हेल्पलाइन सेवा शुरू की है। यह चैटबॉट हेल्पलाइन सेवा लापता बच्चों का पता लगाने के उद्देश्य से बनाई गई है। इस हेल्पलाईन सेवा में व्हाट्सएप भी एकीकृत किया गया है।

Read @ANI Story | https://t.co/PQx4Ifa47K#BhagwantMann #Punjab #helpline #ArtificialIntelligence #chatbots pic.twitter.com/RbZ4fRZP1t— ANI Digital (@ani_digital) March 28, 2023

मान बोले- हर कदम पर बच्चों व महिलाओं की सुरक्षा करना है  

लोग इस नंबर पर व्हाट्सएप कर शिकायत कर सकतें हैं। वहीं ट्वीटर पर भवंत मान ने यह भी कहा कि सरकार का लक्ष्य हर कदम पर महिलाओं और बच्चों की सुरक्षा करना है।

इस नंबर पर करें व्हाट्सएप

चैटबॉट हेल्पलाइन सेवा के लिए व्हाट्सएप 95177-95178 नंबर जारी किया गया है। इस नंबर पर लोग अपनी शिकायत दर्ज करा सकते हैं।

आधुनिक सीसीटीवी कैमरे लगाने शुरू

मुख्यमंत्री ने कहा संगरूर जिले के हरेक कोने पर नजर रखने के लिए वहां आधुनिक सीसीटीवी कैमरे लगाने शुरू किए हैं। इसको अब राज्य भर में लागू किया जाएगा, जिससे पुलिस पर काम का बोझ घटाने के साथ-साथ कानून-व्यवस्था की स्थिति पर प्रभावशाली तरीके से नजर रखी जा सकेगी। मुख्यमंत्री ने सीसीटीवी कैमरों को पुलिस की तीसरी आंख बताते हुए कहा कि इनसे किसी भी घटना से निपटने के लिए तत्काल कार्यवाही सुनिश्चित बनाई जा सकेगी।

मानव तस्करी से निपटने की जरूरत 

वहीं, उन्होंने लोगों की समस्याओं को घर पर ही दूर करने के लिए पुलिस को वैज्ञानिक तरीकों को अपनाने व अपने तौर तरीकों को बदलने पर जोर दिया है। पुलिस विभाग में हो रहे आधुनिकीकरण की सराहना करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि मानव तस्करी पुलिस के लिए ही नहीं, बल्कि समूचे समाज के लिए गंभीर खतरा बन रही है। इस खतरे के साथ सख्ती से निपटने की जरूरत है, जिसके लिए पुलिस द्वारा लकीर से हटकर चैट बोट नाम की पहल एक स्वागत योग्य कदम है।

वाट्सऐप चैट बोट और अन्य ऑनलाइन तरीकों की जरूरत

उन्होंने कहा कि भारत जैसे विकासशील मुल्क को लोगों की समस्याओं का तेज़ी से समाधान करने के लिए वाट्सऐप चैट बोट और अन्य ऑनलाइन तरीकों की जरूरत है। औरतों को हरेक क्षेत्र में आगे आने का न्योता देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि इस संबंधी राज्य सरकार ने बेमिसाल कदम उठाते हुए सात औरतों को डिप्टी कमिश्नर और पांच को एसएसपी नियुक्त किया है।

उन्होंने कहा कि हमें गर्व है कि यह अफसर राज्य और इसके लोगों की बेमिसाली सेवा कर रहे हैं। अपनी लिखी कविता ‘न तो मुझे जन्म से पहले ही मारा गया, न ही मेरे जन्म का दुख ही सहा गया’ सुनाते हुए मुख्यमंत्री ने हरेक क्षेत्र में औरतों के लिए समान अवसरों की वकालत की।

औरतों और बच्चों के कल्याण के लिए विभिन्न कार्यक्रम

इससे पहले सामाजिक सुरक्षा, महिला एवं बाल विकास मंत्री डॉ. बलजीत कौर ने कहा कि विभाग बच्चों को ही नहीं, बल्कि बचपन को भी बचाने के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने कहा कि औरतों और बच्चों के कल्याण के लिए विभिन्न कार्यक्रम चलाए जा रहे हैं और ‘विद्या प्रकाश, स्कूल वापसी का आगाज’ इनमें से एक है। इस मौके पर कार्यवाहक डीजीपी गौरव यादव, एडीजीपी गुरप्रीत कौर दिओ भी मौजूद थी।


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.