चंडीगढ़, जेएनएन। पीजीआइ नान फैकल्टी स्टाफ बोनस की मांग न माने जाने के विरोध में सोमवार को मार्च निकालेगा। मंगलवार को कर्मचारी 10 से 12 बजे तक हड़ताल पर रहेंगे। 21 अक्टूबर को ड्यूटी के बाद पीजीआइ से रैली ग्राउंड्स के लिए कैंडल मार्च निकालेंगे। यह जानकारी यूनियन की ओर से पीजीआइ प्रशासन को दे दी गई है।

इस दौरान मरीजों और जनता को को होने वाली असुविधा के लिए खेद जताया गया है। यूनियन के प्रेसिडेंट अश्विनी कुमार मुंजाल का कहना है कि पीजीआइ स्टाफ को पिछले 30 साल से बोनस मिल रहा है, लेकिन फाइनेंशियल एडवाइजर के रवैये के कारण इस साल बोनस के भुगतान में बाधा आ रही है।

यूनियन के पदाधिकारियों का कहना है कि एम्स के कर्मचारियों को बोनस का भुगतान किया जा रहा है, उन्हें नहीं। रोगियों और जनता से फीस से हर साल 140 करोड़ रुपए पीजीआइ को मिल रहे हैं। लेकिन इसके बावजूद उनकी मांगों को पूरा नहीं किया जा रहा है।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

 

Posted By: Sat Paul

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!