चंडीगढ़, जेएनएन। Corona Virus: पंजाब में कोरोना संक्रमण के मामलों ने एक बार फिर लंबी छलांग लगाई है। पिछले 24 घंटे में पाजिटिव मरीज की संख्या में लगभग दोगुना का इजाफा हो गया है। राज्‍य में पिछले 24 घंटे के दौरान कोराेना के 566 नए मामले सामने आए हैं। इस दौरान आठ लोगों की मौत हो गई है। राज्‍श्‍ में काेरोना के कुल सक्रिय 3598 मरीजों में से नौ की स्थिति अति गंभीर बनी हुई है। इन्हें वेंटीलेटर पर रखा। 248 मरीजों ने कोरोना को मात दी है।

पांच जिलों के 23 स्कूलों के 20 अध्यापक व 16 बच्चे भी हुए संक्रमित

राज्य में स्कूल खोले जाने के बाद स्थिति और बिगड़ने लगी है। पिछले 24 घंटे में पांच जिलों जालंधर, अमृतसर, पटियाला, लुधियाना और तरनतारन के 23 स्कूलों के 20 अध्यापक और 16 बच्चे भी कोरोना पाजिटिव पाए गए हैं। अहम बात यह है कि पंजाब में सबसे ज्यादा आबादी वाले जिला लुधियाना में सबसे अधिक 79 केस सामने आए हैं। शहीद भगत सिंह नगर (नवांशहर) में 70 और जालंधर में 67 केस सामने आए हैं। वहीं, मोहाली में 64, पटियाला में 63, होशियारपुर में 62, कपूरथला में 59 और अमृतसर में 47 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए हैं।

श्री मुक्तसर साहिब और फिरोजपुर ऐसे जिले रहे जहां पिछले 24 घंटे के दौरान कोरोना का एक भी केस सामने नहीं आया। शहीद भगत सिंह नगर में वर्तमान में सबसे अधिक 597 सक्रिय मरीज हो गए है। लुधियाना में यह संख्या 498, मोहाली में 471 और जालंधर में 471 है।

वहीं, कोरोना की रोकथाम के लिए लगाई जाने वाली वैक्सीन को लेकर हेल्थ वर्कर अब भी ज्यादा रूचि नहीं दिखा रहे हैं। बुधवार को केवल 1438 लोगों ने पहली डोज लगवाई। इसके बाद पहली डोज लगवाने वालों की संख्या 83,841 हो गई है। वैसे फ्रंट लाइन वर्करों में खासा उत्साह देखने को मिल रहा है। 4149 लोगों ने कोरोना की पहली वैक्सीन लगवाई। इसके बाद इनकी संख्या 55,333 हो गई है।

इसी प्रकार 3,521 हैल्थ वर्करों को दूसरी डोज लगाई गई। कुल 27386 लोगों को दूसरी डोज लगाई जा चुकी है। सेहत विभाग ने स्पष्ट किया है कि निजी दफ्तरों और रेस्तरां कर्मचारियों को टेस्ट के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा। इसे अनिवार्य नहीं किया गया है।

 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप