जेएनएन, चंडीगढ़। शहर के इंडस्ट्रीयल एरिया स्थित एक कॉलोनी में 13 साल की लड़की ने आत्‍महत्‍या कर ली। उसके दादा दवा लेने बाजार गए थे और भाई-बहन बाहर खेल रहे थे। इसी दौरान, लड़की ने गले में फंदा लगा लिया। दादा दवा लेकर घर लौटे तो पोती को फंदे से लटकता देख उनके होश उड़ गए।

घटना कालोनी नंबर 4 में परिवार की है। लड़की इलाके के ही सरकारी स्कूल में छठी कक्षा में पढ़ती थी। बच्ची ने अपने घर में छत में लगे सरिया से फंदा लगाया। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है। उसका नाम शालू बताया जा रहा है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

जांच अधिकारी रणपाल सिंह ने बताया कि कालोनी में अरविंद नामक अपने पिता, पत्नी और पांच बच्चों के साथ रहता है। पिछले एक हफ्ते से अरविंद पत्नी और बड़ी बेटी के साथ उत्तरप्रदेश के शाहजहांपुर गया है। सोमवार सुबह करीब शालू के दादा मार्केट में दवाई लेने गए थे और शालू के तीन भाई घर के बाहर खेल रहे थे। दादा जब दवाई लेकर घर पर पहुंचे तो लड़की की हालत देख उनके होश उड़ गए। वह गले में फंदा लगाकर झूल रही थी। उन्‍होंने आस पड़ोस के लोगों को बुलाया और मामले की सूचना पुलिस कंट्रोल रूम को भी दी। घटनास्थल से कोई सुसाइड नोट बरामद नहीं मिला है।

चार दिन से स्कूल नहीं गई थी लड़की

रणपाल सिंह ने बताया कि बच्ची पिछले चार दिन से स्कूल नहीं जा रही थी। इस मामले में पुलिस ने उसकी दोस्त से भी पूछताछ की है। अभी आत्महत्या के कारणों का पता नहीं लग पाया है। पुलिस आसपास के लोगों और रिश्तेदारों से पूछताछ कर रही है।

Posted By: Sunil Kumar Jha

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!