चंडीगढ़, जेएनएन। कोरोना वायरस के चलते चंडीगढ़ में सभी लोगों को मास्क पहनना अनिवार्य कर दिया है। इस बात को देखते हुए वीरवार को डीएसपी रोड सेफ्टी जसविंदर सिंह, आइटी पार्क थाना प्रभारी लखवीर सिंह के साथ शशांक भट्ट और उनके साथियों ने बच्चों को मास्क बांटे। इस दौरान छोटे बच्चों को डीएसपी जसविंदर ने खुद मास्क पहनाया। वीरवार को शशांक द्वारा इंदिरा कॉलोनी में गरीब लोगों के लिए लंगर लगाया गया, जिसमें डीएसपी जसविंदर ने भी शिरकत की। 

डीएसपी जसविंदर ने लोगों से कहा कि वे आपस में दूरी बनाए रखें। उसके अलावा अपने मुंह को हमेशा मास्क या फिर रुमाल से ढक के रखे। वहीं शशांक ने कहा कि कोरोना वायरस की वजह से आज सब जगह हालात सामान्य नहीं है। ऐसे में हर किसी व्यक्ति को अपना फर्ज पूरा करने के लिए आगे आना चाहिए। 

विकासनगर और मौली जागरां से लाया जा रहा है खाना

इस मौके पर शशांक भट्ट ने कहा कि पिछले दो दिनों से इंदिरा कॉलोनी में खाने की सप्लाई नहीं हुई है। ऐसे में जरूरतमंद लोगों का पेट भरने के लिए विकासनगर और मौली जागरां से खाना मंगवाया जा रहा है। उसके साथ ही लोगों में घरों से भी खाना बनवा कर बांटा जा रहा है।

प्रधानमंत्री राहत कोष में दिए 21000 रुपए

शशांक भट्ट व उनके साथियों ने कोरोना से मुकाबले के लिए प्रधानमंत्री राहत कोष में 21000 रुपए की राशि दान की है। उसके अलावा वीरवार से बच्चों से लेकर बुजुर्गों हर वर्ग को मास्क बांटने का कार्य भी शुरू किया है।

पार्षद के निर्देश पर टीम का गठन

इलाके के हर गरीब व जरूरतमंद परिवार तक जरूरी सामान पहुंचाना सुनिश्चित करने के लिए स्थानीय पार्षद के निर्देश में शशांक भट्ट के नेतृत्व में एक टीम का गठन किया गया है। टीम के सदस्य लोगों की मदद के लिए लगातार सराहनीय काम कर रहे हैं।

Posted By: Vikas_Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!