चंडीगढ़, जेएनएन। मकर संक्रांति के उपलक्ष्य पर वीरवार को शहर में कहीं पर कढ़ी चावल के लंगर लगाए गए तो कहीं पर फूल के पौधे बांटे गए। मोहाली जिले के जगतपुरा गांव में नया अभियान वेलफेयर सोसायटी ने विशाल भंडारा लगाया, जिसमें स्थानीय लोगों को लंगर प्रसाद को तौर पर कढ़ी-चावल खिलाया गया।

नया अभियान वेलफेयर सोसायटी के प्रधान अजय राणा ने बताया कि मकर संक्राति पर हमेशा दान किया जाता है उसी के तहत हमने लंगर का आयोजन किया है। यह लंगर जरूरतमंद लाेगों के लिए लगाया गया था जो कि भविष्य में भी जारी रहेगा।

गोशाला सेक्टर-45 में बांटे फूल के पौधे

गोशाला सेक्टर-45 में गौरीशंकर सेवादल की तरफ से मकर संक्रांति के दिन फूल के पौधे बांटे गए। यह पौधे नारियल के खोल में उगाए गए थे।  सेवादल के चेयरमेन सुमित शर्मा ने बताया कि इस समय पर्यावरण प्रदूषित हो रहा है, जिसके चलते हमने खाने का लंगर लगाने के बजाय फूलों के पौधों का लंगर लगाया है। मकर संक्रांति के उपलक्ष्य में सेवादल की तरफ से एक हजार पौधे मंगवाए गए थे। इसके साथ ही सबसे अहम बात है कि यह फूल नारियल के खोल में उगाए गए हैं लोगों को बेकार चीज़ों दोबारा से इस्तेमाल के लिए प्रेरित कर सके।

सेवादल के उपाध्यक्ष विनोद ने कहा कि देश के प्रधानमंत्री का भी नारा है वोकल से लोकल। उसी के तहत यह पौधे नारियल के खोल में उगाए गए हैं। जो पौधे मकर संक्रांति वाले दिन देने के बावजूद बच गए हैं। शेष बचे हुए पौधे अन्य लोगों को जल्द मुहैया कराएंगे ताकि पर्यावरण को लाभ हो सके और नारियल के खोल जो कबाड़ बनते हैं वह भी बेहतर तरीके से इस्तेमाल होते हुए पर्यावरण को लाभ दे सके।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021